देर रात तक बैठना खतरनाक

Last Updated: Monday, July 25, 2011 - 06:25

देर तक एक ही स्थिति में बैठने से हृदय रोग का खतरा बढ़ सकता है. खासकर महिलाओं के संदर्भ में यह अधिक खतरनाक हो सकता है.

एक नए सर्वे के मुताबिक देर तक एक ही स्थिति में बैठी रहने वाली महिलाओं के फेफड़ों में रक्त का थक्का बनने का खतरा सक्रिय रहने वाली महिला की तुलना में दो से तीन गुना अधिक होता है, जो खतरनाक हो सकता है. यह पहला अध्ययन है जिसमें बताया गया है कि देर तक एक ही स्थिति में बैठे रहने से पल्मोनरी इम्बोलिज्म का खतरा बढ़ सकता है जो हृदय रोग का एक सामान्य कारण है.

यह अध्ययन रिपोर्ट ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में प्रकाशित हुई है. इसके मुताबिक पल्मोनरी इम्बोलिज्म तब होता है जब पैरों की नस से फेफड़ों तक होने वाला रक्त का प्रवाह जम जाता है. सांस लेने में कठिनाई, छाती में दर्द और कफ इसके लक्षण हैं.

इस निष्कर्ष तक पहुंचने के लिए शोधकर्ताओं ने 69,950 महिला नर्सो का 18 साल तक अध्ययन किया. हर दो साल पर इनसे इनकी जीवनशैली को लेकर सवाल किए गए. उन्होंने पाया कि देर तक बैठी रहने वाली महिलाओं में पल्मोनरी इम्बोलिज्म का खतरा उन महिलाओं से दो गुना अधिक होता है जो कम समय तक बैठती हैं.



First Published: Friday, August 5, 2011 - 14:50
TAGS:


comments powered by Disqus