रिकॉर्ड स्तर तक गिरने के बाद संभला रुपया, डॉलर के मुकाबले 9 पैसों की मजबूती के साथ हुआ बंद

बाजार सूत्रों ने कहा कि कच्चे तेल की कम होती कीमतें तथा अन्य प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के कमजोर होने से रुपये को समर्थन मिला.

रिकॉर्ड स्तर तक गिरने के बाद संभला रुपया, डॉलर के मुकाबले 9 पैसों की मजबूती के साथ हुआ बंद
डॉलर के मुकाबले रुपया 9 पैसों की मजबूती के साथ हुआ बंद
Play

मुंबई : वैश्विक बाजारों में बिकवाली के बीच गुरुवार को दिन के कारोबार के दौरान रुपया अब तक के सबसे निचले स्तर (74.50 रुपये प्रति डॉलर) तक लुढ़कने के बाद कारोबार की समाप्ति पर 9 पैसे मजबूत हो कर 74.12 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ. बाजार सूत्रों ने कहा कि कच्चे तेल की कम होती कीमतें तथा अन्य प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के कमजोर होने से रुपये को समर्थन मिला. अन्तरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया 74.37 रुपये प्रति डॉलर पर कमजोर खुला तथा विदेशी पूंजी की सतत निकासी के बीच आयातकों की भारी डॉलर मांग से दिन में एक समय तेजी से गिरता हुआ 74.50 रुपये प्रति डॉलर के दिन के निम्नतम स्तर को छू गया.

आम तौर पर उतार-चढ़ाव भरे कारोबार के दौरान बाद में रुपये में तेजी से सुधार देखा गया और यह लगातार दूसरे दिन तेजी के साथ अंत में नौ पैसे बढ़कर 74.12 रुपया प्रति डॉलर पर बंद हुआ. बुधवार को रुपया 18 पैसे की तेजी के साथ 74.21 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था.

बंबई स्‍टॉक एक्‍सचेंज का 30 शेयरों पर आधारित सूचकांक सेंसेक्‍स गुरुवार को 750 अंक की गिरावट दर्शाता छह माह के न्यूनतम स्तर पर बंद हुआ.

एफबीआईएल ने गुरुवार के लिए डॉलर-रुपया संदर्भ दर 74.3875 रुपये प्रति डॉलर, यूरो-रुपया के लिए 85.9012 रुपये प्रति यूरो और ब्रिटिश पौंड के लिए 98.2961 रुपये प्रति पौंड निर्धारित की थी. जापानी येन के लिए संदर्भ दर 66.29 रुपये प्रति 100 येन रखी गई.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close