Apple का कारोबार ट्रिलियन डॉलर के पार, दुनिया की पहली लिस्टेड कंपनी बनी

गुरुवार को बाजार खुलने के साथ ही शुरूआती कारोबार में कंपनी के शेयर में एक-दो बार उतार-चढ़ाव देखने को मिला, लेकिन कुछ समय बाद एप्पल का रेट तेजी से ऊपर चढ़ने लगा.

 Apple का कारोबार ट्रिलियन डॉलर के पार, दुनिया की पहली लिस्टेड कंपनी बनी
तीन दशक में कंपनी ने 50 हजार फीसदी का इजाफा किया है.

नई दिल्ली : आईफोन बनाने वाली कंपनी एप्पल की कामयाबी में एक और इतिहास जुड़ गया है. अमेरिका की इस कंपनी का कारोबार 1 ट्रिलियन डॉलर के पार हो गया है और ऐसा करने वाली यह दुनिया की पहली लिस्टेड कंपनी हो गई है. कंपनी के कारोबार में आए विस्तार के चलते एप्पल के शेयरों की मांग में भी उछाल आया है. बाजार के जानकार बताते हैं कि एप्पल ने जिस मुकाम को हासिल किया है वहां अभीतक कोई और कंपनी नहीं पहुंची है. अगर भारतीय मुद्रा की बात करें तो इस कंपनी का कारोबार लगभग 68 लाख करोड़ रुपये के आंकड़े को पार कर गया है.

गुरुवार को बाजार खुलने के साथ ही शुरूआती कारोबार में कंपनी के शेयर में एक-दो बार उतार-चढ़ाव देखने को मिला, लेकिन जैसे बाजार में कारोबारियों की भीड़ जुटने लगी एप्पल का रेट तेजी से ऊपर चढ़ने लगा. 1980 में एप्पल लिस्टेड कंपनी बनी थी. इन तीन दशक में कंपनी ने 50 हजार फीसदी का इजाफा किया है. कंपनी ने 2007 में आईफोन लॉन्च करने मोबाइल फोन की दुनिया में तहलका मचा दिया था. तभी से आईफोन के मामले में एप्पल का एकछत्र राज है.

गुरुवार को शेयर प्राइस 207.05 डॉलर पर पहुंचते ही एप्पल का कारोबार एक ट्रिलियन (1000 अरब) डॉलर का हो गया. इस समय मार्केट कैप वाली टॉप तीन कंपनियों में एप्पल, अमेजन और अल्पाबेट हैं. अप्रैल-जून तिमाही में कंपनी का मुनाफा 32 फीसदी  बढ़कर 79,000 करोड़ रुपए रहा था. आईफोन की बढ़ती मांग के चलते कंपनी के राजस्व में 20 फीसदी की बढ़ोतरी हुई. जानकारी के मुताबिक एप्पल करीब सवा चार करोड़ आईफोन बेच चुकी है.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close