EPFO ने अब इस सेवा पर लगाई रोक, डाटा लीक होने से किया इनकार

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने ऑनलाइन सामान्य सेवा केंद्र (CSC) के जरिये प्रदान की जाने वाली सेवाएं रोक दी हैं. इस बारे में ईपीएफओ का कहना है कि उसने सीएससी की 'संवेदनशीलता की जांच' लंबित रहने तक इन सेवाओं को रोका है.

EPFO ने अब इस सेवा पर लगाई रोक, डाटा लीक होने से किया इनकार

नई दिल्ली : कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने ऑनलाइन सामान्य सेवा केंद्र (CSC) के जरिये प्रदान की जाने वाली सेवाएं रोक दी हैं. इस बारे में ईपीएफओ का कहना है कि उसने सीएससी की 'संवेदनशीलता की जांच' लंबित रहने तक इन सेवाओं को रोका है. हालांकि, ईपीएफओ ने सरकार की वेबसाइट से अंशधारकों के डाटा लीक की किसी संभावना को खारिज किया है. ईपीएफओ का यह बयान उन खबरों के बाद आया है जिनमें कहा जा रहा था कि हैकर्स ने इलेक्ट्रानिक्स एवं आईटी मंत्रालय के तहत आने वाले साझा सेवा केंद्र द्वारा चलाई जाने वाली www.aadhaar.epfoservices.com वेबसाइट से अंशधारकों का डाटा चोरी किया है.

सेवाओं को 22 मार्च 2018 से रोका गया
यह रिपोर्ट ईपीएफओ केंद्रीय भविष्य निधि आयुक्त वीपी जॉय द्वारा सीएससी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी दिनेश त्यागी को लिखे पत्र पर आधारित है. रिपोर्ट वायरल होने के बाद ईपीएफओ ने बयान जारी कर कहा, 'डाटा या सॉफ्टवेयर की संवेदनशीलता को लेकर चेतावनी एक सामान्य प्रशासनिक प्रक्रिया है. इसी आधार पर सीएससी के जरिये प्रदान की जाने वाली सेवाओं को 22 मार्च, 2018 से रोक दिया गया है.' ईपीएफओ ने कहा कि ये रिपोर्ट सीएससी के जरिये सेवाओं के बारे में है और इनका ईपीएफओ सॉफ्टवेयर या डाटा केंद्र से लेना-देना नहीं है.

डाटा लीक की अभी तक पुष्टि नहीं
ईपीएफओ
ने कहा कि डाटा लीक की अभी तक कोई पुष्टि नहीं हुई है. डाटा सुरक्षा और संरक्षण के लिए ईपीएफओ ने अग्रिम कार्रवाई करते हुए सर्वर को बंद कर दिया है. जांच पूरी होने तक सीएससी के जरिये सेवाएं प्रदान नहीं की जाएंगी. ईपीएफओ ने आगे कहा कि किसी तरह की चिंता की जरूरत नहीं है. डाटा लीक की किसी भी संभावना को रोकने के लिए हरसंभव उपाय किए गए हैं. भविष्य में इस बारे में सतर्कता बरती जाएगी.

ईपीएफओ शुरू कर सकता है लोन सर्विस
इससे पहले खबर आई थी कि नौकरीपेशा लोगों का पीएफ अकाउंट बैंक की तरह से काम कर सकता है. एक प्रस्ताव के अनुसार पीएफ अकाउंट के आधार पर आसान शर्तों पर होम लोन, ऑटो लोन और एजुकेशन लोन मिल सकता है. इस बारे में सीबीटी की कुछ दिन पहले हुई बैठक में प्रस्ताव मिला है. इस बैठक में ईपीएफओ को फाइनेंशियल संस्था बनाने का प्रस्ताव दिया गया है. अगर इस प्रस्ताव पर अमल होता है तो भविष्य में ईपीएफओ लोन बिजनेस में उतरेगा.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close