आधार कार्ड लिंक कराने की अंतिम तारीख है 31 मार्च, ध्यान रखें ये बातें

अगर आपने अभी तक अपने बैंक खाते को आधार से लिंक नहीं कराया है, तो यह खबर आपके लिए ही है.

आधार कार्ड लिंक कराने की अंतिम तारीख है 31 मार्च, ध्यान रखें ये बातें
सुप्रीम कोर्ट आधार लिंक करने की तारीख को बढ़ाने के लिए दायर की गई याचिका को खारिज कर चुका है.(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: अगर आपने अभी तक अपने बैंक खाते को आधार से लिंक नहीं कराया है, तो यह खबर आपके लिए ही है. आधार से बैंक खाते, दूसरी वित्तीय सेवाओं और मोबाइल नेटवर्क सर्विस प्रोवाइडर को जोड़ने की अंतिम तारीख इसी महीने की 31 मार्च है. अगर आप बैंक खाते को आधार से लिंक नहीं कराते है तो आपका खाता फ्रीज हो जाएगा. आधार को मोबाइल नेटवर्क सर्विस प्रोवाइडर से लिंक न कराने पर आपकी सेवाएं बंद कर दी जाएंगी. आपको नया सिम कार्ड लेना हो, नया पैन कार्ड बनवाना हो, पासपोर्ट आवेदन, Provident Fund (पीएफ) खातों के लिए, नया बैंक खाता खोलना हो, साथ ही पुराने बैंक खातों को भी आधार कार्ड से अटैच किया जाना जरुरी है. कई अन्य योजनाओं के लिए भी यह अनिवार्य है. आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट पहले ही बैंकिंग या मोबाइल नंबर को आधार से लिंक करने की तारीख को बढ़ाने के लिए दायर की गई याचिका को खारिज कर चुका है.

जरूरी है आधार कार्ड, लेकिन बरतें सावधानियां
भारत सरकार द्वारा आधार कार्ड को अनिवार्य करने की प्रक्रिया जारी है. एलपीजी सब्सिडी ट्रॉन्सफर हो या नया बैंक अकाउंट खुलवाना हो, PAN Card बनवाने हो या नया सिम कार्ड लेना हो सभी के लिए अब आधार कार्ड को अनिवार्य कर दिया गया है. अगर आप भविष्य में इससे होने वाली परेशानी से बचना चाहते हैं तो आपको आधार कार्ड को सभी अनिवार्य योजनाओं से लिंक कराना जरुरी है. आधार को लिंक करते समय आपको कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए. अगर इन बातों का ध्यान नहीं रखा तो आप मुश्किल में पड़ सकते हैं. हम आपको बताएंगे कि आधार को लिंक करते समय किन सावधानियों का ध्यान रखना चाहिए...........

कभी सांझा न करें आधार नंबर
अपने आधार से जुड़ी जानकारी किसी भी अन्य व्यक्ति से सांझा न करें. आपके द्वारा दी गई आधार की जानकारी से आपके बैंक खाते से रुपए निकाल कर धोखा किया जा सकता है. साथ ही अन्य महत्वपूर्ण गुप्त जानकारियां भी सार्वजनिक हो सकती हैं.

कॉल या ऑनलाइन नहीं होती है लिंक प्रक्रिया
आपका सिम कार्ड कभी भी कॉल या ऑनलाइन माध्यम से आधार नंबर से लिंक नहीं किया जा सकता है. आपको आधार नंबर लिंक कराने के लिए संबंधित सर्विस प्रोवाइडर के कस्टमर केयर ऑफिस जाना होगा. आपको बता दें कि इस प्रक्रिया को पूरा करने लिए के लिए फिंगर प्रिंट भी जरूरी है. 

फर्जी कॉलर्स को न दें जानकारी
कोई व्यक्ति अगर नेटवर्क सर्विस प्रोवाइडर या बैंक कर्मचारी बनकर आधार नंबर मांगने के लिए फोन कर पूछे तो उसे अपना आधार नंबर न बताए. आधार की कोई भी जानकारी शेयर ना करें. अगर आपके पास ऐसी कोई कॉल आती है तो तुरंत उसकी जानकारी बैंक या सर्विस प्रोवाइडर को दें. 

कर सकते हैं एम-आधार ऐप का इस्तेमाल
डिजिटल इंडिया को ध्यान में रखते हुए UIDAI ने आधार कार्ड के डिजिटल संस्करण को आम जनता के लिए उपलब्ध करवाने फैसला लिया. इसके लिए UIDAI ने एंड्राइड ऐप mAadhaar(एम-आधार) लांच किया हुआ है. यह ऐप Android Smartphones पर गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है. इस ऐप को डाउनलोड करने के बाद आप आधार कार्ड साथ लेकर घूमने की झंझट से बच जाऐंगे. 

अधिकृत वेबसाइट पर ही करें लिंकिंग प्रक्रिया 
आधार नंबर को बैंक अकाउंट से लिंक करने के लिए बैंक की अधिकृत वेबसाइट का ही प्रयोग करें. आप बैंक की ब्रांच में जाकर भी इस प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं.

आपकी गोपनीयता पूरी तरह सुरक्षित 
आधार कार्ड की गोपनीयता और बायोमिट्रिक डेटा के दुरूपयोग को लेकर कई सवाल उठे हैं. हालांकि लापरवाही के कुछ मामले सामने आए हैं, लेकिन आप स्वयं किसी को आधार कार्ड की जानकारी नहीं देंगे तो वह सुरक्षित रहेगा.  

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close