मुकेश अंबानी की वजह से निवेशक हुए मालामाल, चंद घंटे में कमाए 32 हजार करोड़

एशिया के सबसे अमीर आदमी और रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी की दौलत लगातार बढ़ रही है. एनर्जी सेक्टर से लेकर टेलीकॉम तक से उनकी चांदी हो रही है.

मुकेश अंबानी की वजह से निवेशक हुए मालामाल, चंद घंटे में कमाए 32 हजार करोड़

नई दिल्ली: एशिया के सबसे अमीर आदमी और रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी की दौलत लगातार बढ़ रही है. एनर्जी सेक्टर से लेकर टेलीकॉम तक से उनकी चांदी हो रही है. एक तरफ रिलायंस इंडस्ट्रीज का पेट्रो कारोबार बेहतर परफॉर्म कर रहा है तो वहीं जियो भी लंबी छलांग की तैयारी में हैं. यही वजह है कि मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज अब 100 अरब डॉलर की कंपनी बन गई है. मुकेश अंबानी का दावा है कि वह अगले सात साल में अपनी ग्रोथ दोगुनी कर देंगे. इसका ऐलान उन्होंने कंपनी की 41वीं एजीएम में भी किया था. यही वजह है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज के निवेशक लगातार मालामाल हो रहे हैं. 

100 अरब डॉलर क्लब में एंट्री
रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार मूल्यांकन शेयर बाजारों में फिर से 100 अरब डॉलर पर पहुंच गया. कंपनी का शेयर भाव 1,091 रुपए प्रति शेयर पहुंच गया जो 52 हफ्तों का उच्च स्तर है. बंबई शेयर बाजार पर कंपनी के शेयर में आज लगातार पांचवे दिन बढ़त जारी रही और यह 52 हफ्तों के उच्च स्तर 1,091 रुपए प्रति शेयर पर पहुंच गया. इसकी प्रमुख वजह अप्रैल-जून तिमाही परिणाम आने से पहले कंपनी का अपनी आम वार्षिक सभा (AGM) में नई कारोबारी योजनाओं की घोषणा करना है.

32 हजार करोड़ की कमाई
कंपनी का शेयर सुबह 1,043.15 रुपए पर खुला और बाद में यह 5.27% की बढ़त के साथ 52 हफ्तों के उच्च स्तर 1,091 रुपए प्रति शेयर पर पहुंच गया. सुबह तकरीबन 11 बजकर 55 मिनट पर कंपनी का बाजार मूल्यांकन 6.89 लाख करोड़ रुपए पहुंचा और उसका मूल्यांकन बढ़कर 100 अरब डॉलर के पार पहुंच गया. हालांकि, कारोबार खत्म होने तक मार्केट कैप 99.92 अरब डॉलर यानी 6.85 लाख करोड़ रुपए तक पहुंच गया. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर कंपनी का शेयर 1,044.35 रुपए पर खुला था. यहां भी शेयर में 5.02% की तेजी देखने को मिली और शेयर 52 हफ्तों की नई ऊंचाई के साथ 1,091 रुपए प्रति शेयर पर पहुंच गया. सिर्फ चंद घंटे के कारोबार में रिलायंस इंडस्ट्रीज के निवेशकों की दौलत में 32 हजार करोड़ का इजाफा हुआ.

TCS के बाद दूसरी बड़ी कंपनी
पिछली बार रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार मूल्यांकन अक्तूबर 2007 में 100 अरब डॉलर पर पहुंचा था. 11 साल बाद कंपनी ने अपना इतिहास दोहराया है. रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) 100 अरब डॉलर मार्केट कैप पार करने वाली टीसीएस के बाद देश की दूसरी कंपनी बन गई है. बता दें कि टीसीएस देश की सबसे ज्यादा मार्केट कैप वाली कंपनी है. टीसीएस का मार्केट कैप 7.55 लाख करोड़ रुपए है.

AGM के बाद 12.5 फीसदी उछला शेयर
रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपनी 41वीं एजीएम में कुछ नए ऐलान किए थे. कंपनी की एग्रेसिव पॉलिसी के चलते शेयर में लगातार तेजी बनी हुई है. आरआईएल की एजीएम के दिन 965 रुपए के भाव पर था, वह 12 जुलाई यानी गुरूवार को 1086 रुपए के भाव पर पहुंच गया. एजीएम के बाद शेयर में करीब 12.5 फीसदी तेजी आई है.

आगे भी मालामाल करेगा RIL का शेयर
रिलायंस इंडस्ट्रीज में आई तेजी आगे भी जारी रह सकती है. ब्रोकरेज हाउस गोल्डमैन सैक्स ने कहा है कि अगली कुछ तिमाही में RIL का शेयर 29 फीसदी तक का रिटर्न दे सकता है. गोल्डमैन सैक्स ने RIL के लिए 1340 रुपए प्रति शेयर का टारगेट तय किया है. ब्रोकरेज हाउस के मुताबिक, रिलायंस में एबिटा में सालाना 45 फीसदी की ग्रोथ आ सकती है. वहीं, अनुमान लगाया गया है कि अगली तिमाही में ही इसमें 2 फीसदी की ग्रोथ देखने को मिल सकती है. वहीं, गैस कारोबार से भी रिफाइनिंग मार्जिन बढ़ने के आसार हैं. ऐसे में ब्रोकरेज हाउस ने मौजूदा भाव पर खरीदारी की सलाह दी है. 

क्रेडिट सुइस भी बुलिश
इन्वेस्टमेंट बैंकिंग कंपनी क्रेडिट सुईस भी रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर पर बुलिश है. कंपनी का कहना है कि RIL का शेयर आगे वाले दिनों में जबरदस्त मुनाफा देगा. साथ ही उसने शेयर में खरीदारी की सलाह दी है. टारगेट प्राइस 1180 रुपए प्रति शेयर रखा है. कंपनी के मुताबिक, रिलायंस जियो के दम पर RIL ग्रोथ दर्ज करेगी. रिलायंस जियो के अगले प्रोजेक्ट से कंपनी के मुनाफे में बड़ा उछाल देखने को मिल सकता है. जियो की ग्रोथ से रिलायंस इंडस्ट्रीज को भी जबरदस्त फायदा मिलने की उम्मीद जताई गई है.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close