INSIDE PICS: ये है वो 42 करोड़ का 'सरकारी बंगला', जिसे लेकर मचा है यूपी में हल्ला

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव के सरकारी बंगला खाली करने के बाद यूपी की सियासत में घमासान मचा हुआ है. 

INSIDE PICS: ये है वो 42 करोड़ का 'सरकारी बंगला', जिसे लेकर मचा है यूपी में हल्ला

नई दिल्ली: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव के सरकारी बंगला खाली करने के बाद यूपी की सियासत में घमासान मचा हुआ है. लखनऊ के 4, विक्रमादित्य मार्ग का सरकारी बंगला एकदम आलीशान दिखता है. बाहर से निकलने वाले की नजरें इसे एक टक ताकती हैं. अंदर से भी महल की तरह सजने वाला ये बंगला अब राजनीति का नया अड्डा बन गया है. दरअसल, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने यह बंगला तो खाली कर दिया, लेकिन जाते-जाते वह इसके पीछे कई विवाद छोड़ गए. विवाद जिनको लेकर राजनीतिक गलियारों में हल्ला मचा है. खुद अखिलेश यादव सफाई तक दे रहे हैं.

42 करोड़ रुपए से सजा था बंगला
दरअसल, अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री रहते हुए यह बंगला बनवाया था. इसको भव्य रूप देने और साज सज्जा पर करीब 42 करोड़ रुपए से ज्यादा खर्च किए गए. इसमें सुख सुविधाओं का हर इंतजाम किया गया. भव्यता के लिए प्रसिद्ध इस बंगले में दो जून को अखिलेश यादव ने खाली कर दिया. बंगले की चाभी भी राज्य संपत्ति विभाग को सौंप दी गई. लेकिन, सरकारी बंगला जब खुला तो देखा गया कि पूरे बंगले का नक्शा ही कुछ और है.

सरकारी बंगला, अखिलेश यादव, 4 Vikramaditya Bungalow, UP Ex Cm House, Inside Pics, Akhilesh Yadav Bungalow, Yogi Adiyanath

क्या है बंगला विवाद
जब अखिलेश यादव का 4, विक्रमादित्य मार्ग स्थित सरकारी बंगला खोला गया तो अंदर का हाल देखकर सभी दंग रह गए. कभी आलीशान महल की तरह दिखने वाला यह बंगला अंदर से तहस-नहस मिला. एसी, स्विच बोर्ड, बल्ब और वायरिंग तक गायब मिले. स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, स्विमिंग पूल और लॉन उजड़े हुए हैं. सीढ़ियां तोड़ दी गई हैं. साइकल ट्रैक भी खोद दिया गया है. बंगले में पहली मंजिल पर बने सफेद संगमरमर के मंदिर के अलावा कोई हिस्सा ऐसा नहीं है, जहां तोड़फोड़ न की गई हो.

सरकारी बंगला, अखिलेश यादव, 4 Vikramaditya Bungalow, UP Ex Cm House, Inside Pics, Akhilesh Yadav Bungalow, Yogi Adiyanath

एक-दूसरे पर आरोप
बताया जा रहा है कि अखिलेश यादव जाते-जाते साज-सज्जा का सारा सामान भी उखाड़ ले गए हैं. बंगले में बड़े पैमाने पर तोड़ फोड़ की गई है. वहीं, समाजवादी पार्टी ने इन आरोपों को बीजेपी की साजिश बताया है. उसके मुताबिक ऐसा अखिलेश यादव को बदनाम करने के लिए किया जा रहा है. अखिलेश यादव ने भी इस मामले में सफाई जारी की है. उन्होंने कहा कि बीजेपी साजिश कर रही है. अखिलेश यादव ने कहा 'जो मेरी चीज थी, वो मैं लेकर गया. मशीनें हमारी हैं, हम ले गए. अगर सरकारी दस्तावेज में ये सभी चीजें दर्ज हैं तो मुझे दिखाएं.' 

सरकारी बंगला, अखिलेश यादव, 4 Vikramaditya Bungalow, UP Ex Cm House, Inside Pics, Akhilesh Yadav Bungalow, Yogi Adiyanath

बंगले में सभी जगह तोड़-फोड़
अखिलेश यादव के बंगले में टूट-फूट के निशान सभी जगह मौजूद थे. गेट से दाखिल होने पर पैदल चलने के लिए घास के बीच लगी टाइल्स उखाड़ ली गई हैं. मकान के भीतर लगे इटैलियन मार्बल उखड़े हुए हैं. जिस साइकिल ट्रैक पर खुद अखिलेश यादव साइकिल चलाया करते थे उसकी टाइल्स तोड़ दी गई हैं.बंगले के अंदर लगे स्विच बोर्ड से लेकर एसी, पंखा, लाइट्स सभी कुछ उखाड़ लिया गया है.

सरकारी बंगला, अखिलेश यादव, 4 Vikramaditya Bungalow, UP Ex Cm House, Inside Pics, Akhilesh Yadav Bungalow, Yogi Adiyanath

अखिलेश का बीजेपी पर वार
अखिलेश यादव का आरोप है कि बीजेपी ये सब इसलिए कर रही है, क्योंकि हमने उन्हें उपचुनाव में हार का मुंह दिखाया है. उन्होंने इशारे-इशारे में आगमी लोकसभा चुनाव की भी बात कहीं. उन्होंने कहा, 'समाजवादी पार्टी 2019 में होने वाले चुनाव जी-जान से लड़ेगी, प्रधानमंत्री कोई भी हो, लेकिन अगला प्रधानमंत्री बीजेपी का नहीं बनने देंगे'.

 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close