कोलकाता में होगी अवॉर्ड नाइट, जहां रेड कारपेट पर उतरेंगे भोजपुरिया सितारे

इस अवार्ड फंक्‍शन के संयोजक विकास सिंह बिरप्पन हैं. बता दें कि रवि किशन और काजल राघवानी ने कोलकाता स्थित कालीघाट के काली मंदिर में काली माता मंदिर जाकर पूजा अर्चना की.

कोलकाता में होगी अवॉर्ड नाइट, जहां रेड कारपेट पर उतरेंगे भोजपुरिया सितारे

नई दिल्‍ली: 5 मई को कोलकाता के नेता जी इनडोर स्टेडियम में भोजपुरी फिल्‍म जगत के सभी कलाकारों की मौजूदगी में एक भव्य अवार्ड नाइट का आयोजन किया जा रहा है. इस अवॉर्ड शो के बारे में बात करते हुए देश की लगभग सभी भाषाओं की फिल्मो में काम कर चुके भोजपुरी स्‍टार रवि किशन ने बताया कि भोजपुरी के शो तो कोलकाता में होते रहते हैं लेकिन पहली बार नेता जी इनडोर स्टेडियम के विशाल मंच पर अवार्ड के बीच कलाकारों द्वारा रंगा रंग कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाएगा. 500 से भी अधिक फिल्मों में अभिनय कर चुके रवि किशन ने आगे कहा, 'कोलकाता की माटी कला की माटी है और यहां लाखों की तादाद में भोजपुरिया समाज के लोग रहते हैं जो यहां रहकर भी अपनी जमीन से जुड़े हैं.

उन्होंने आयोजकों को धन्यवाद देते हुए कहा कि कोलकाता में इस तरह के भव्य कार्यक्रम से दर्शकों का रुझान भोजपुरी सिनेमा की तरफ बढ़ेगा. स्क्रीन एंड स्टेज भोजपुरी सिने अवार्ड में सहयोग कर रही है हावड़ा की भोजपुरी नवयुवक संघ जबकि आयोजक हैं अरुण ओझा, वेद तिवारी और मृत्युंजय पांडे. इस अवार्ड फंक्‍शन के संयोजक विकास सिंह बिरप्पन हैं. बता दें कि रवि किशन और काजल राघवानी ने कोलकाता स्थित कालीघाट के काली मंदिर में काली माता मंदिर जाकर पूजा अर्चना की. उनके साथ विकास सिंह बिरप्पन, पंकज पांडेय, हितेश लिम्बाचिया और उदय भगत भी मौजूद थे. काली माता मंदिर में दर्शन के पूर्व रवि किशन और काजल राघवानी ने साड़ी मार्किट में बंगाली साड़ी की खरीदारी की.

भोजपुरी फिल्‍म जगत का जानामाना नाम काजल राघवानी ने कहा कि आम तौर पर वह किसी भी अवार्ड समारोह में कम ही भाग लेती हैं, लेकिन वह इस अवॉर्ड फंक्‍शन में परफॉर्म भी करती नजर आएंगी. समारोह के आयोजकों ने बताया कि यह पहला मौका होगा जब किसी अवार्ड समारोह में पूरी भोजपुरी जगत एक मंच पर होगी. विकास सिंह बिरप्पन ने बताया कि मनोज तिवारी, निरहुआ, पवन सिंह, खेसारी लाल यादव सहित 150 कलाकार और टेक्‍नीशियन 5 मई को कोलकाता में रहेंगे.

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close