रोजाना डायट में ऐड करें लहसुन की कुछ कलियां, मिलेंगे ये दमदार फायदे

लहसुन में एलियम नामक एंटीबायोटिक होता है जो बहुत से रोगों के बचाव में लाभप्रद है. 

रोजाना डायट में ऐड करें लहसुन की कुछ कलियां, मिलेंगे ये दमदार फायदे
फाइल फोटो

नई दिल्ली:  लहसुन गुणों से भरपूर भारतीय सब्जियों का स्वाद बढ़ाने वाला ऐसा पदार्थ है जो प्रायः हर घर में इस्तेमाल किया जाता है. ज्यादातर लोग इसे सिर्फ मसाले के साथ भोजन में ही इस्तेमाल करते हैं. लेकिन यह औषधि के रूप में भी उतना ही फायदेमंद है.

लहसुन में पाया जाता है एलियम
इसकी गंध बहुत ही तेज और स्वाद तीखा होता है. लहसुन में एलियम नामक एंटीबायोटिक होता है जो बहुत से रोगों के बचाव में लाभप्रद है. नियमित लहसुन खाने से ब्लडप्रेशर कम या ज्यादा होने की बीमारी नहीं होती. गैस्टिक ट्रबल और एसिडिटी की शिकायत में इसका प्रयोग बहुत ही लाभदायक होता है.

दिल के रोगों को खत्म करने में कारागार
यदि रोज नियमित रूप से लहसुन की पांच कलियां खाई जाएं तो हृदय संबंधी रोग होने की संभावना में कमी आती है. इसको पीसकर त्वचा पर लेप करने से विषैले कीड़ों के काटने या डंक मारने से होने वाली जलन कम हो जाती है. जुकाम और सर्दी में तो यह रामबाण की तरह काम करता है. लहसुन गठिया और अन्य जोड़ों के रोग में भी लहसुन का सेवन बहुत ही लाभदायक है.  माना जाता है कि इसका प्रयोग करने वाले मनुष्य के दांत, मांस व नाखून बाल, व रंग कमज़ोर नहीं होते हैं. यह पेट के कीड़े मारता है व खांसी दूर करता है.

कब्ज मिटान में भी सहायक
लहसुन कब्ज को मिटाने वाला व आंखों के रोग दूर करने वाला माना गया है. लहसुन की दो कलियां भून लें उसमें सफेद जीरा व सौंफ सैंधा नमक मिलाकर चूर्ण बना लें. इसका सेवन सुबह खाली पेट गर्म पानी से करें. लहसुन की चटनी खाना चाहिए और लहसुन को कुचलकर पानी का घोल बनाकर पीना चाहिए.लहसुन सिर्फ खाने के स्वाद को ही नहीं बढ़ाता बल्कि शरीर के लिए एक औषधी की तरह भी काम करता है. इसमें प्रोटीन, विटामिन, खनिज, लवण और फॉस्फोरस, आयरन व विटामिन ए,बी व सी भी पाए जाते हैं.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close