अब तस्वीर का रंग बताएगा आप डिप्रेशन में तो नहीं हैं...

अंतिम अपडेट: शनिवार अगस्त 12, 2017 - 02:04 PM IST
अब तस्वीर का रंग बताएगा आप डिप्रेशन में तो नहीं हैं...
यह प्रोग्राम 70 प्रतिशत तक तनावग्रस्त लोगों का सटीक पता लगा सकता है (फाइल फोटो)

न्यूयॉर्क: एक तस्वीर हजारों शब्दों के बराबर होती है. तस्वीर के भाव वैसे तो कई बातों का इशारा करते हैं. लेकिन अब वैज्ञानिकों ने एक ऐसा कंप्यूटर प्रोग्राम विकसित किया है, जो तस्वीर के रंग के आधार पर डिप्रेशन का भी पता लगा सकता है.
आपकी फेसबुक या इंस्टाग्राम की तस्वीर बता सकती है कि कहीं आप डिप्रेशन से पीड़ित तो नहीं हैं. वैज्ञानिकों का कहना है कि ये नया कंप्यूटर प्रोग्राम डॉक्टरों की तुलना में बेहतर तरीके से, आपकी सोशल मीडिया की फोटो के जरिए डिप्रेशन का पता लगा सकता है. यह प्रोग्राम 70 प्रतिशत तक तनावग्रस्त लोगों का सटीक पता लगा सकता है. हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के एंड्रयू रीस और वर्मोंट विश्वविद्यालय के क्रिस्टोफर डेनफोर्थ का कहना है, ‘‘मशहूर सोशल मीडिया एप पर कुछ लोगों के अकांउट के एनालिसिस में हमने पाया कि डिप्रेशनग्रस्त लोगों की तस्वीरों के रंग गहरे थे, उस पर जिन्होंने अधिक कमेंट किए, उनके फोटो में फिल्टर का इस्तेमाल कम किया गया.’’ डेनफोर्थ ने कहा, ‘‘जब वह फिल्टर का इस्तेमाल करते भी थे तो तस्वीर को ब्लैक एंड व्हाइट करने के लिए. डिप्रेशनग्रस्त पाए गए लोगों ने अन्य लोगों की तुलना में कई अधिक पोस्ट भी किए.’’ उन्होंने बताया कि ऑनलाइन सामाजिक संवाद के बढ़ने से मानसिक और शारीरिक बीमारियों से पीड़ित लोगों की शुरुआती पहचान एल्गोरिथम के जरिए किए जाने की संभावना बढ़ गई है.

ये भी पढें : जानिए क्या है डिप्रेशन और कैसे होता है इसका इलाज

शोधकर्ताओं ने मशहूर सोशल मीडिया एप के 166 यूजर के 43,950 तस्वीरों का विश्लेषण करने के लिए इस कंप्यूटर प्रोग्राम का इस्तेमाल किया. इनमें 71 ऐसे लोग शामिल थे जिन्हें क्लीनिकल जांच के बाद डिप्रेशन होने की बात पता चली थी. यह अध्ययन पत्रिका ‘ईपीजे डाटा साइंस’ में प्रकाशित हुआ था.