गूगल पर खोजा अपना नाम, रिजल्ट देख शख्स ने ठोका सर्च इंजन पर मुकद्दमा, जानें फिर क्या हुआ?

ये मामला ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न का है. वहां के रहने वाले मिलोराड त्रिकुजला ने गूगल के खिलाफ ये केस किया था.

गूगल पर खोजा अपना नाम, रिजल्ट देख शख्स ने ठोका सर्च इंजन पर मुकद्दमा, जानें फिर क्या हुआ?

नई दिल्ली : एक व्यक्ति के बारे में गलत जानकारी देना दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल को भारी पड़ गया. उसने न सिर्फ गूगल पर केस ठोक दिया, बल्कि केस जीत भी लिया. गूगल को कोर्ट की ओर से कहा गया कि वह उस व्यक्ति को 150,000 डॉलर का भुगतान करे. उस व्यक्ति ने गूगल के खिलाफ लंबी कानूनी लड़ाई लड़ी. अब इस केस में उन्हें जीत मिली है.

ये मामला ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न का है. वहां के रहने वाले मिलोराड त्रिकुजला ने गूगल के खिलाफ ये केस किया था. ये मामला 2004 का है. उस समय मेलबर्न में मिलोराड पर एक लोकल गेंगस्टर ने गोली चलाई थी. इसके थोड़े दिनों बाद मिलोराड ने एक दिन ऐसे ही गूगल पर अपना नाम खोजा. गूगल पर आए परिणाम देखकर वह चौंक उठे.

आम-चीकू ने रोका बुलेट ट्रेन का 'रास्‍ता', कैसे पूरा होगा पीएम मोदी का ड्रीम प्रोजेक्‍ट?

दरअसल गूगल पर उनका नाम और फोटो को एक गैंगस्टर के तौर पर दिखाया गया था. इसके साथ उन्हें ड्रग ट्रेफिकर भी बताया गया था. इसके बाद उन्होंने गूगल के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया कोर्ट में मुकद्मा ठोक दिया. इसके बाद इसके बाद उन्हें 150000 अमेरिकी डॉलर के भुगतान का आदेश हुआ.

90 किमी दूर दुश्‍मन को मार गिराएगी यह मिसाइल, पोखरण में हुआ परीक्षण, लगाया सटीक निशाना

इसके बाद मामला विक्टोरियन कोर्ट में चला गया. यहां उन्होंने गूगल पर आरोप जड़ा कि उनके सर्च में बहुत गलतियां हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि यदि कोई मेलबोर्न के अंडरवर्ल्ड क्रिमिनल की जानकारी गूगल पर मांगे तो उसमें उनकी तस्वीर आती है. हालांकि उस समय केस गूगल ने जीत लिया. मिलोराड ने हार नहीं मानी. उन्होंने केस को हाईकोर्ट में चुनौती दी. इसके बाद हाईकोर्ट ने फैसला उनके पक्ष में सुनाया. कोर्ट ने यह भी माना ये मामला मानहानि का बनता है.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close