श्री श्री रविशंकर के खिलाफ शिकायत, अयोध्या केस में हिन्दुस्तान को सीरिया बनाने की बात कही थी

शिकायत में आरोप है कि श्री श्री ने हिन्दुस्तान को सीरिया बनाने के बयान के जरिए हिन्दुस्तान के मुसलमानों को खुली धमकी दी है.

श्री श्री रविशंकर के खिलाफ शिकायत, अयोध्या केस में हिन्दुस्तान को सीरिया बनाने की बात कही थी
आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर. (फाइल फोटो)

लखनऊ: आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर के 'सीरिया वाले बयान' को लेकर ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के एक नेता ने गुरुवार (8 मार्च) को पुलिस में शिकायत दी. एआईएमआईएम के जिलाध्यक्ष तौहीद सिददीकी (नजमी) की ओर से बाजार खाला के क्षेत्राधिकारी को संबोधित शिकायत में कहा गया, 'पांच मार्च को (श्री श्री ने) मीडिया में एक बयान दिया कि अगर हिन्दुस्तान का मुसलमान अयोध्या में विवाादित भूमि पर स्वेच्छा से मंदिर नहीं बनने देगा तो हिन्दुस्तान को भी सीरिया बना दिया जाएगा.' शिकायत में आरोप है कि श्री श्री ने हिन्दुस्तान को सीरिया बनाने के बयान के जरिए हिन्दुस्तान के मुसलमानों को खुली धमकी दी है.

सिद्दी की ने क्षेत्राधिकारी से आग्रह किया कि उनकी रिपोर्ट दर्ज कर कठोर कानूनी कार्रवाई की जाए. सिद्दी की ने बातचीत में कहा, 'पुलिस ने एफआईआर नहीं दर्ज की है.' उन्होंने चेतावनी दी कि अगर 48 घंटे के भीतर हमारी शिकायत पर पुलिस ने एफआईआर नहीं दर्ज की तो हमारे कार्यकर्ता लखनऊ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) आवास का घेराव करेंगें. इस बारे में पुलिस की ओर से तत्काल कोई प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी.

श्री श्री रविशंकर की आशंकाएं सुप्रीम कोर्ट और मुसलमानों के लिए धमकी : मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

दोनों समुदाय की सहमति से हो राम मंदिर का निर्माण :श्री श्री रविशंकर
आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक और आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर ने एक बार फिर कहा है कि अयोध्या में राम मंदिर दोनों समुदाय की सहमति से बनना चाहिए. मध्य प्रदेश के जबलपुर पहुंचे श्री श्री रविशकर ने गुरुवार (8 मार्च) को संवाददाताओं से चर्चा करते हुए कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण दोनों समुदायों की आपसी सहमति से होना चाहिए, इससे बहुत लोग सहमत भी हैं. चंद लोग ही ऐसे हैं जिनका अस्तित्व संघर्ष में है, वे ऐसा नहीं चाहते हैं.

रविशंकर ने 'अभिव्यक्ति की आजादी' पर तंज कसते हुए कहा, "लोग अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की बात करते हैं, मैंने कहा है कि मेरा देश सीरिया जैसा न हो. देश में अमन-चैन और शांति रहे. इस पर लोग बड़ा बवाल करते हैं, किसी को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है और किसी को नहीं. यह गलत बात है. इसलिए सभी को सचेत होना होगा."

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close