लालू यादव ने क्यों कहा, पैसे उड़ाते हैं सीएम नीतीश कुमार

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद ने बिहार में नीतीश कुमार की सरकार पर बिजली मंत्रियों के दो दिवसीय सम्मेलन की तैयारियों पर जमकर 'पैसे उड़ाने' का आरोप लगाया.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Updated: Nov 11, 2017, 12:19 AM IST
लालू यादव ने क्यों कहा, पैसे उड़ाते हैं सीएम नीतीश कुमार
राष्ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव. तस्वीर: PTI

पटना: राष्ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद ने बिहार में नीतीश कुमार की सरकार पर बिजली मंत्रियों के दो दिवसीय सम्मेलन की तैयारियों पर जमकर 'पैसे उड़ाने' का आरोप लगाया. यह सम्मेलन शुक्रवार को शुरू होना था लेकिन कल इसे रद्द कर दिया गया था. नालंदा जिले के राजगीर में इस सम्मेलन का आयोजन होना था. लालू ने यहां संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया, 'आज से शुरू होने वाले दो दिवसीय आयोजन पर राज्य सरकार ने जमकर पैसे उड़ाए. हमें पता चला है कि विस्तृत तैयारियों पर 60 करोड़ रूपये खर्च किये जाने थे क्योंकि नीतीश सरकार कांफ्रेंस को प्रचार के अवसर के तौर पर देख रही थी.' उन्होंने कहा कि नालंदा जिले के कई गांवों में मुफ्त एलईडी बल्ब बांटे गए और बिजली सबस्टेशनों को संवारा गया ताकि सरकार बिजली के क्षेत्र में अपनी उपलब्धियां गिना सके.

राजद नेता के आरोपों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए राज्य के बिजली मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव ने पीटीआई-भाषा से कहा, 'तैयारियों पर 60 करोड़ रूपये खर्च करने का दावा हास्यास्पद है.' उन्होंने कहा , 'क्या राजगीर में कोई पांच सितारा होटल है ? दूसरे राज्यों के प्रतिनिधियों के ठहरने, आने जाने तथा शायद एक या दो भोज पर राज्य सरकार कितना खर्च करती.' यादव ने कहा, 'केवल राज्य सरकार ही खर्चा नहीं उठाती है. ऐसे कांफ्रेंस में हिस्सा लेने वाले प्रतिनिधि भी अपने बिल का भुगतान करते हैं.'

ये भी पढ़ें: बिहार में टॉयलेट स्कैम: लालू बोले- कागजों में हजारों शौचालय खा गई नीतीश सरकार

लालू ने दिया संकेत बिहार के अगले चुनाव में तेजस्वी हो सकते हैं राजद का चेहरा
आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने शुक्रवार को संकेत दिया कि उनके छोटे बेटे तेजस्वी यादव बिहार में अगले विधानसभा चुनाव में पार्टी का चेहरा हो सकते हैं. प्रदेश राजद अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे के कहा कि तेजस्वी यादव के नेतृत्व में पार्टी अगली सरकार बनाएगी, इस पर लालू प्रसाद ने अपने छोटे बेटे के नेतृत्व गुणों की तारीफ की.

राजद प्रमुख ने संवाददाताओं से कहा, 'नेतृत्व क्षमता और भाषण के मामले में वह (तेजस्वी ) आगे है. मैं यह इसलिए नहीं कह रहा कि वह मेरा बेटा है.' हाल में लगातार चौथी बार प्रदेश अध्यक्ष चुने जाने के बाद पूर्वे ने कहा था, 'हम तेजस्वी यादव के नेतृत्व में बिहार में अगली सरकार बनाएंगे .' तेजस्वी गुरुवार को 28 साल के हो गए. वह राजद, जदयू और कांग्रेस के महागठबंधन वाली सरकार में उपमुख्यमंत्री थे.

ये भी पढ़ें: लालू यादव बोले- बीजेपी की उल्टी गिनती शुरू

हालांकि, राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने असहमति प्रकट करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री उम्मीदवार के मुद्दे का अभी समय नहीं है और राज्य में चुनाव होने तक ऐसा नेतृत्व उभर कर सामने आ जाएगा.

पूर्वे के बयान पर सिंह ने एक समाचार चैनल से कहा कि पार्टी बैठकों में नेता अपनी भावनाएं जाहिर करते हैं. रामचंद्र पूर्वे ने भी यही किया. किसी भी मामले में दूसरा दावेदार नहीं आ रहा . चुनाव बहुत दूर है . हम उपयुक्त समय पर फैसला करेंगे.

राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने कहा, 'चुनाव इतना दूर है तो अभी मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के बारे में सोचने का समय नहीं आया है. पूर्वे ने कुछ कहा है तो यह उनकी निजी राय है.'
इनपुट: भाषा