राहुल-सोनिया की याचिकाएं बताती है कि कांग्रेस में गहरे तक जड़ जमाये है भ्रष्टाचार : BJP

दिल्ली हाई कोर्ट ने सोमवार को कांग्रेस नेता सोनिया गांधी और राहुल गांधी की उन याचिकाओं को खारिज कर दिया जिनमें उन्होंने 2011-12 के अपने कर निर्धारण की फाइल दोबारा खोले जाने को चुनौती दी थी. 

राहुल-सोनिया की याचिकाएं बताती है कि कांग्रेस में गहरे तक जड़ जमाये है भ्रष्टाचार : BJP
केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि राहुल गांधी को कई सवालों के जवाब देने की जरूरत है. (फाइल फोटो )

नई दिल्ली: बीजेपी ने मंगलवार को कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एवं उनकी मां सोनिया गांधी के वर्ष 2011-2012 के कर आकलन को दोबारा खोले जाने के आयकर (आईटी) विभाग के फैसले के खिलाफ उनकी याचिकाओं से पता चलता है कि कांग्रेस में ‘गहरे तक भ्रष्टाचार जड़ जमाये’ है.

केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि राहुल गांधी को कई सवालों के जवाब देने की जरूरत है. एक दिन पहले ही दिल्ली हाई कोर्ट ने ‘नेशनल हेराल्ड’  अखबार से संबंधित एक मामले में राहुल-सोनिया के कर आकलन को दोबारा खोले जाने को चुनौती देने वाली उनकी याचिकाओं को खारिज कर दिया था.

ईरानी ने कहा,‘राहुल गांधी एवं सोनिया गांधी की अपील पर कल के अदालत के फैसले से यह पता चलता है कि कांग्रेस पार्टी के अंदर काफी गहरे तक भ्रष्टाचार जड़ जमाये है.’ऑस्कर फर्नांडीस समेत कांग्रेस के शीर्ष नेताओं की याचिकाओं के खारिज होने से अब वर्ष 2011-12 कर आकलन के लिए उनके रिकॉर्ड की दोबारा  जांच-पड़ताल के संदर्भ में आयकर विभाग के लिये रास्ता तैयार हुआ है. 

 BJP says Gandhis' pleas challenging tax reassessment reveals deep rooted corruption in Congress

बता दें दिल्ली हाई कोर्ट ने सोमवार को कांग्रेस नेता सोनिया गांधी और राहुल गांधी की उन याचिकाओं को खारिज कर दिया जिनमें उन्होंने 2011-12 के अपने कर निर्धारण की फाइल दोबारा खोले जाने को चुनौती दी थी. न्यायमूर्ति एस रवींद्र भट और न्यायमूर्ति ए के चावला की पीठ ने कहा कि याचिकाएं खारिज की जाती हैं. पीठ ने कांग्रेस नेता ऑस्कर फर्नांडीस की याचिका भी खारिज कर दी थी. उन्होंने भी 2011-12 के अपने कर निर्धारण की फाइल दोबारा खोले जाने को चुनौती दी थी. उच्च न्यायालय ने तीनों की याचिकाओं पर 16 अगस्त को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. 

(इनपुट - भाषा)

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close