ग्रेटर नोएडा के अपार्टमेंट में नेशनल लेवल के बॉक्सर का मर्डर, हत्यारों ने फ्लैट को लगाया ताला

जितेंद्र मान (27) नाम के इस बॉक्सर का शव सूरजपुर थाना क्षेत्र के एवीजे हाइट्स अपार्टमेंट में उसके अपने फ्लैट में मिला. जितेन्द्र इन दिनों इसी इलाके में अल्फा-1 में चल रहे एक जिम में ट्रेनर के रूप में काम कर रहे थे. 

ग्रेटर नोएडा के अपार्टमेंट में नेशनल लेवल के बॉक्सर का मर्डर, हत्यारों ने फ्लैट को लगाया ताला

नई दिल्लीः ग्रेटर नोएडा में शुक्रवार को एक बॉक्सर की दिनदहाड़े हत्या की खबर ने इलाके में सनसनी मचा दी. जितेंद्र मान (27) नाम के इस बॉक्सर का शव सूरजपुर थाना क्षेत्र के एवीजे हाइट्स अपार्टमेंट में उसके अपने फ्लैट में मिला. पुलिस को शुक्रवार दोपहर करीब 1.30 बजे सूचना मिली की जितेंद्र को चार गोली लगी है. जितेन्द्र इन दिनों इसी इलाके में अल्फा-1 में चल रहे एक जिम में ट्रेनर के रूप में काम कर रहे थे. बताया जा रहा है कि जितेंद्र मान जूनियर लेवल की बॉक्सिंग में इंटरनेशनल लेवल के खिलाड़ी रहे है. वह कई देशों में खेलने के लिए भी जा चुके हैं.

एसपी सुनिति सिंह के मुताबिक जितेंद्र 10 जनवरी की सुबह जिम गए थे. जिम से जाने के बाद से जितेंद्र का मोबाइल फोन बंद था. जितेंद्र के परिजनों की मानें तो पिछले तीन दिनों से जितेंद्र के दोस्त उन्हें फोन कर रहे थे, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया था. जब दोस्त उनके घर आए तो वह घर पर नहीं मिले और फ्लैट का ताला लगा था. 

हत्या के बाद फ्लैट का ताला लगा भाग गए हत्यारे
ऐसा माना जा रहा है कि जितेंद्र की हत्या कई दिन पहले ही कर दी गई थी और हत्या के बाद उसका शव फ्लैट के अंदर ही छोड़कर हत्यारे भाग निकले. जितेंद्र के फ्लैट की एक चॉबी फिटनेस एकेडमी के संचालक प्रीतम टोकस के पास भी थी. जितेंद्र के बारे में जब कुछ पता न चला तो प्रीतम ने शुक्रवार (12 जनवरी) दोपहर फ्लैट पर जाकर अपनी चॉबी से ताला खोला. तब उन्हें पता चला कि अंदर जितेंद्र मान का शव गोलियों से छलनी पड़ा था. उन्होंने इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दी. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. 

पुलिस की थ्योरी
एसपी सुनिति सिंह के मुताबिक हत्या करने के बाद बदमाशों ने फ्लैट का दरवाजा बंद कर दिया और जितेंद्र का मोबाइल भी अपने साथ ले गये. उन्होंने बताया कि जितेंद्र के मोबाइल नंबर को सर्विलांस पर डाल दिया गया है तथा अपार्टमेंट में लगे सीसीटीवी फुटेज की भी जांच की जा रही है जिसकी मदद से बदमाशों की पहचान का प्रयास किया जा रहा है.

क्या कहते हैं पड़ोसी 
बॉक्सर की पड़ोस में रहने वाली एक महिला ने मीडिया को बताया कि सोसाइटी में सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं है. हर कोई बिना रोक-टोक सोसाइटी में घुस जाता है. कोई जांच नहीं होती है यहां लाइट का भी सही इंतजाम नहीं है.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close