कैबिनेट मंत्री रूडी और कुलस्ते का इस्तीफा, कई मंत्रियों की हो सकती है छुट्टी

राजीव प्रताप रूडी बिहार के सारण से लोकसभा सांसद हैं और केंद्र सरकार में राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार कौशल विकास और उद्यमशीलता थे.

कैबिनेट मंत्री रूडी और कुलस्ते का इस्तीफा, कई मंत्रियों की हो सकती है छुट्टी
फिलहाल मंत्रिमंडल में फेरबदल की चर्चा जोरों पर हैं, भाजपा सूत्रों ने संकेत दिया है कि यह शीघ्र हो सकता है (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: मोदी कैबिनेट में कौशल विकास मंत्रालय की जिम्मेदारी संभाल रहे राजीव प्रताप रूडी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है इसके साथ ही हेल्थ ऐंड फैमिली वेलफेयर राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. हालांकि इस्तीफे का कारण अभी तक साफ नहीं हुआ  है. राजीव प्रताप रूडी बिहार के सारण से लोकसभा सांसद हैं और केंद्र सरकार में कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय में राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) थे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रविवार को चीन की यात्रा पर रवाना होने से पहले मंत्रिमंडल में संभावित फेरबदल से पूर्व इस बात के कयास भी लगाये जा रहे हैं कि कुछ और मंत्री इस्तीफा दे सकते हैं. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार सुबह अपने आवास पर कुछ वरिष्ठ मंत्रियों से मुलाकात के बाद प्रधानमंत्री से भी मुलाकात की थी.सूत्रों ने कहा कि मोदी जदयू और अन्नाद्रमुक समेत नये चेहरों को अपने मंत्रिमंडल में जगह देने की तैयारी कर रहे हैं तथा ऐसे में और मंत्री इस्तीफा दे सकते हैं.

और पढ़ें: मोदी कैबिनेट का हो सकता है 15 अगस्त के बाद विस्तार, कई नए चेहरे होंगे शामिल!

रूडी के करीबी सूत्रों ने कहा कि उन्हें भाजपा में संगठनात्मक काम दिया जा सकता है. सूत्रों ने कहा कि शाह से मिलने वाले कलराज मिश्रा भी इस्तीफा दे सकते हैं. उनकी उम्र 75 साल से ज्यादा है जो पार्टी द्वारा अनौपचारिक रूप से मंत्रियों के लिये रखी गयी उम्र सीमा है.

इससे पहले दिन में केंद्रीय मंत्री महेंद्र नाथ पांडेय को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की जगह उत्तर प्रदेश भाजपा का अध्यक्ष बनाया गया जिससे मंत्रिपरिषद में एक और जगह बनेगी. यह फेरबदल मोदी के ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिये चीन रवाना होने से पहले हो सकता है.

जल संसाधन मंत्री उमा भारती ने भी कथित तौर पर स्वास्थ्य आधार पर इस्तीफे की पेशकश की है.

अन्नाद्रमुक अगर मोदी सरकार में शामिल होती है तो पार्टी के थांबी दुरई और के वेणुगोपाल कैबिनेट में पार्टी के संभावित चेहरे के तौर पर देखे जा रहे हैं. जदयू के भी कम से कम दो सदस्यों के शामिल होने की उम्मीद है.

सरकार में कई पद रिक्त हैं क्योंकि अरूण जेटली और हर्ष वर्धन जैसे कुछ वरिष्ठ मंत्री अतिरक्त मंत्रालय संभाल रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक राष्ट्रपति के कल तिरूपति रवाना होने का कार्यक्रम है. अभी राष्ट्रपति भवन को कोई जानकारी नहीं दी गयी है.

ये भी पढ़ें: मोदी कैबिनेट में होगा भारी फेरबदल, जानिए- कौन लेगा एंट्री और किसकी होगी छुट्टी!

गुरुवार को खुद अरुण जेटली ने भी संकेत दे दिए. मीडिया के एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि रक्षा मंत्रालय की अतिरिक्त जिम्मेदारी मेरे पास ज्यादा दिनों तक नहीं रहेगी.
संभावना है कि शनिवार शाम या रविवार सुबह कैबिनेट का विस्तार हो सकता है.

गौरतलब है कि गुरुवार (31 अगस्त) को भाजपा प्रमुख अमित शाह ने मंत्रिमंडल में फेरबदल की अटकलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भेंट की थी. फिलहाल मंत्रिमंडल में फेरबदल की चर्चा जोरों पर हैं.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close