'सीएम खुद को भगवान समझते थे, डिप्टी सीएम समझते थे कि चंद्रगुप्त के बाद मैं ही मौर्य हूं'

गोरखपुर और फूलपुर दोनों ही सीटों पर कांग्रेस की जमानत जब्त हो गई है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बाद खड़गे ने सीएम योगी और डिप्टी सीएम पर साधा निशाना.

'सीएम खुद को भगवान समझते थे, डिप्टी सीएम समझते थे कि चंद्रगुप्त के बाद मैं ही मौर्य हूं'
लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने बीजेपी की हार को अहंकार का परिणाम बताया (फोटोः एएनआई)

नई दिल्लीः यूपी में लोकसभा की दो सीटों पर हुए उपुचनाव में बीजेपी की करारी हार पर कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सीएम योगी आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य पर निशाना साधा है. बता दें कि फूलपुर लोकसभा सीट यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की सीट रही है. राज्य में बीजेपी के सरकार बनने के बाद मौर्य को डिप्टी सीएम बनाया गया था जिसके बाद यह सीट खाली हो गई थी. वहीं गोरखपुर सीट से योगी आदित्यनाथ साल 1998-99 से सांसद रहे है. साल 2017 में योगी के राज्य का सीएम बनने के बाद से यह सीट खाली हुई थी और इस पर उपचुनाव हुए थे. 

हालांकि इन दोनों ही सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशियों की जमानत जब्त हुई है लेकिन कांग्रेस के नेता बीजेपी की हार से इतने उत्साहित हैं कि वह अपनी हार को भूल गए हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के ट्वीट के बाद लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'सीएम अपने आप को भगवान का अवतार समझकर फिरते थे और लोग उनके पैर छूते थे. डिप्टी सीएम मौर्य वो तो अपने आप को ये समझते हैं कि चंद्रगुप्त मौर्य के बाद मैं ही मौर्य हूं. अहंकार की बात करते जाएंगे तो उसका ये ही नतीजा होगा'

 

इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट पर बीजेपी की हार पर करारा हमला करते हुए ट्वीट किया था. राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा था, 'आज के उपचुनावों में जीतने वाले उम्मीदवारों को बधाई. नतीजों से स्पष्ट है कि मतदाताओं में बीजेपी के प्रति बहुत क्रोध है और वो उस गैर भाजपाई उम्मीदवार के लिए वोट करेंगे जिसके जीतने की संभावना सबसे ज़्यादा हो. कांग्रेस यूपी में नवनिर्माण के लिए तत्पर है, ये रातों रात नहीं होगा.'' 

यह भी पढ़ेंः मायावती को धन्यवाद, जो सरकार गरीबों को दुख देगी, जनता उसको जवाब देगी: अखिलेश यादव

इसके अलावा समाजवादी पार्टी के गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में शानदार जीत के बाद अखिलेश यादव ने कहा कि गरीब किसान, मजदूर, नौजवान महिलाएं हर किसी का मैं धन्यवाद देना चाहता हूं. अखिलेश यादव ने कहा  मैं सबसे पहले मैं बीएसपी की नेता कुमारी मायावती जी को भी धन्यवाद देता हूं. देश की महत्वपूर्ण लड़ाई में उनकी पार्टी और उनका समर्थन मिला. सपा अध्यक्ष ने कहा कि हम हर वर्ग के लोगों को धन्यवाद देने चाहते हैं. उन्होंने कहा कि मैं कांग्रेस पार्टी, निषाद पार्टी, पीस पार्टी और जितने भी हमारे कम्यूनिस्ट दल है उन्होंने मिलकर के हमारा सहयोग किया उन सभी का धन्यवाद. अखिलेश ने कहा कि इन तमाम दलों ने समय समय पर मिलकर हमें समर्थन दिया और जो परिणाम आया है वह इन सभी की मेहनत का नतीजा है.

सपा अध्यक्ष ने कहा 'गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा क्षेत्र के लाखों लोगों ने हमें वोट दिया है. उन्होंने कहा कि यूपी के लोकसभा के चुनाव से राजनीतिक संदेश हमेशा निकलते है. दोनों महत्वपूर्ण क्षेत्र की जनता में इतनी नाराजगी है, सोचिए आने वाले लोकसभा चुनाव में क्या हाल होगा.'

केंद्र-राज्य सरकार के रवैया का है परिणाम
अखिलेश यादव ने कहा, 'जीएसटी और नोटबंदी ने कारोबार और रोजगार छीन लिए. राज्य में संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही है, भय का वातावरण है. कोई सीएम या पार्टी ऐसी नहीं है जिसने संविधान की धज्जियां उड़ाई हो.'अखिलेश ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा, 'अगर किसी ने सदन में ये कहा हो कि मैं हिंदू हूं और मैं ईद नहीं मनाता हूं, एनकाउंटर कर दो किसी भी हद तक जाना पड़े तो जाओ?'

सपा-बसपा का अपमान किया 
अखिलेश ने कहा, 'हमने कभी अपने आप को बैकवर्ड नहीं समझा है. हमें और बीएसपी के गठबंधन को सांप-छछुंदर का गठबंधन कहा, बोला गया कि चोर-चोर का गठबंधन हुआ है. इस सीमा तक गए कि कहा गया कि औरंगजेब की पार्टी है समाजवादी पार्टी.'

यह बहुत पुराना सपना साकार होता दिख रहा है
अखिलेश ने कहा, ' यूपी के मजदूर किसान दलित ने हमारी जो मदद की है उसका यह परिणाम है यह पुराना सपना पूरा होता नजर आ रहा है. आबादी में जो ज्यादा हो, मेहनत करने वाले ज्यादा हो उन्हीं को कीड़े-मकोड़े जैसे लोग कह दिया जाए तो ऐसे ही परिणाम आएगे. 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close