पत्रकार हत्या मामले में राम रहीम पर फैसला आज, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी पेशी

जज जगदीप सिंह ने सुनारिया जेल के अधीक्षक को निर्देश दिया है कि वह डेरा सच्‍चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को पंचकूला स्थित विशेष सीबीआई कोर्ट में विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेश करें.

पत्रकार हत्या मामले में राम रहीम पर फैसला आज, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी पेशी
राम रहीम पर फैसला आने के चलते हरियाणा में सुरक्षा के पुख्ता प्रबन्ध किए गए हैं. फाइल फोटो

पंचकूला/ निकिता महेश्वरी: विशेष सीबीआइ अदालत द्वारा गुरमीत राम रहीम पर 16 साल पूर्व हुई पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या के मामले में आज बड़ा फैसला आने की संभावना है. विशेष सीबीआई कोर्ट के जज जगदीप सिंह ने 11 जनवरी को पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्या मामले में डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से पेश किए जाने का निर्देश दिया है. 

साध्वी दुष्‍कर्म मामले में सजा सुनाने वाले जज जगदीप सिंह छत्रपति हत्‍याकांड में भी फैसला सुनाएंगे. जज जगदीप सिंह ने सुनारिया जेल के अधीक्षक को निर्देश दिया है कि वह डेरा सच्‍चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को पंचकूला स्थित विशेष सीबीआई कोर्ट में विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेश करें. हालाकिं, मामले में अन्य आरोपी किशनलाल, निर्मल, कुलदीप कोर्ट में पहुंच गए हैं. 

आरोप है कि अक्टूबर 2002 में कुलदीप और निर्मल ने दिन दिहाड़े सिरसा में बीच सड़क पर पत्रकार रामचंद्र को गोली मारी थी. दोनों आरोपियों को मौके से गिरफ्तार किया गया था. हालांकि, जब 2002 में मामला दर्ज किया गया था तब राम रहीम का नाम एफआईआर में नही था. 2003 में इस मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी गई थी और 2006 में राम रहीम के ड्राइवर खट्टा सिंह दृारा दिए बयानों के बाद डेरा प्रमुख का नाम भी शामिल किया गया और 2007 में राम रहीम सहित सभी आरोपीयों के खिलाफ चलान पेश किया गया था. कोर्ट में आरोपियों के साथ साथ राम रहीम के ड्राइवर रहे और मामले के मुख्य गवाह खट्टा सिंह कोर्ट में मौजूद है. 

डेरा प्रमुख राम रहीम पर फैसला आने के चलते हरियाणा में सुरक्षा के पुख्ता प्रबन्ध किए गए हैं. पंचकूला में 7 जगह नाके लागए गए हैं. पंचकूला कोर्ट के बाहर पुलिस अफसरों के साथ साथ 300 पुलिस कर्मी तैनात किए गए हैं.