दस मई से महंगा होगा दिल्ली मेट्रो का सफर, जानें कितने किलोमीटर पर कितना देना होगा किराया

दिल्ली मेट्रो में सफर करना महंगा हो गया है क्योंकि डीएमआरसी ने किराया बढ़ा दिया है. बढ़ा हुआ किराया 10 मई (बुधवार) से लागू होगा. मेट्रो ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों को अब न्यूनतम किराया 10 रुपए देना होगा, अभी 8 रुपए है. जबकि अधिकतम किराया 50 रुपए चुकाना होगा. वर्तमान में 30 रुपए अधिकतम किराया है.

दस मई से महंगा होगा दिल्ली मेट्रो का सफर, जानें कितने किलोमीटर पर कितना देना होगा किराया
दिल्ली मेट्रो का किराया बढ़ा....

नई दिल्ली: दिल्ली मेट्रो रेल निगम ने सोमवार (8 मई) को यात्री किराये में दो चरणों में वृद्धि करने की घोषणा की जिससे इस बुधवार (10 मई) से यात्रियों को मौजूदा किराये से करीब दुगुनी राशि खर्च करनी होगी. मेट्रो के मुख्य प्रवक्ता अनुज दयाल ने कहा कि न्यूनतम किराया आठ रुपये की जगह अब दस रुपये होगा जबकि अधिकतम किराया मौजूदा 30 रुपये के स्थान पर सितंबर तक 50 रुपये होगा और अक्तूबर से 60 रुपये हो जाएगा.

मौजूदा 15 की बजाए अब किराये की कुल छह श्रेणियां होंगी. आखिरी बार 2009 में किराये में वृद्धि की गयी थी. किराये में वृद्धि का रोजाना के सफर पर गहरा असर पड़ेगा. उदाहरण के तौर पर इस समय छतरपुर (यलो लाइन) या मयूर विहार फेज 1 (ब्लू लाइन) स्टेशनों से राजीव चौक स्टेशन के सफर के लिए क्रमश: 19 एवं 16 रुपये देने पड़ते हैं.

दस मई से दोनों ही सफर के लिए आपको 30 रुपये देने होंगे और एक अक्तूबर से यह और बढ़कर 40 रुपये हो जाएगा जब वृद्धि का दूसरा चरण कार्यान्वित होगा. दयाल ने कहा कि रविवार एवं राष्ट्रीय अवकाश (26 जनवरी, 15 अगस्त और दो अक्तूबर को) श्रेणियों में करीब दस रुपये की छूट मिलेगी.

सोमवार से शनिवार तक किराये की नयी संरचना इस प्रकार होगी: दो किलोमीटर तक के लिए दस रुपये, दो से पांच किलोमीटर के लिए 15 रुपये, पांच से 12 किलोमीटर के लिए 20 रुपये, 12 से 21 किलोमीटर के लिए 30 रपये, 21 से 32 किलोमीटर के लिए 40 रुपये और 32 किलोमीटर से अधिक के सफर के लिए 50 रुपये. एक अक्तूबर से यह क्रमश: दस रुपये, 20 रुपये, 30 रुपये, 40 रुपये, 50 रुपये और 60 रुपये होंगे. मेट्रो के राजस्व निदेशक के के सबरवाल ने कहा कि यात्री औसतन करीब 15 किलोमीटर का सफर करते हैं.

किराये की नयी संरचना में एक और पक्ष शामिल है. गैर व्यस्त समय में सफर करने पर दस प्रतिशत की छूट मिलेगी जो सुबह छह से आठ बजे, दोपहर 12 बजे से शाम पांच बजे और नौ बजे के बाद का समय है. स्मार्ट कार्ड का इस्तेमाल करने वालों के लिए छूट मौजूदा दस प्रतिशत के छूट के अलावा होगी.

दिल्ली सरकार ने इस फैसले का विरोध करते हुए कहा कि इसका छात्रों जैसे कुछ वर्गों पर ‘प्रतिकूल’ असर पड़ेगा और इसके कारण लोग निजी वाहनों का इस्तेमाल करने पर मजबूर हो सकते हैं. यह वृद्धि तीन सदस्यीय किराया निर्धारण समिति की सिफारिशों के अनुरूप है जिन्हें केंद्रीय शहरी विकास सचिव राजीब गौबा के नेतृत्व वाले डीएमआरसी बोर्ड ने मंजूरी दी. एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन के किराये में कोई बदलाव नहीं होगा. डीएमआरसी ने आखिरी बार 2009 में किराये में बदलाव किया था.