नेशनल लेवल रेसलर निकला 65 लाख की लूट का मास्टरमाइंड, गोवा में करता था पार्टी

दिल्ली पुलिस ने रेसलर समेत तीन को किया गिरफ्तार. लूट के पैसों से ख़रीदी मारुति जिप्सी और अर्टिगा पुलिस ने गाड़ियों समेत साढ़े सात लाख रुपए किये जब्त.

नेशनल लेवल रेसलर निकला 65 लाख की लूट का मास्टरमाइंड, गोवा में करता था पार्टी
दिल्ली में हुई इस लूट के बाद लोकल पुलिस के साथ स्पेशल सेल को भी केस को सुलझाने की जिम्मेदारी दी गई थी.

नई दिल्लीः दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने सरिता विहार में हुई 65 लाख की लूट की गुत्थी को सुलझाते हुए एक नेशनल लेवल के रेसलर सुनील कुमार समेत तीन लोगों को गिराफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक सुनील, राजेश और योगेंद्र कुख्यात लुटेरे हैं. इन लोगों ने एक अगस्त को सरिता विहार में मोहम्मद शज़ब नाम के एक व्यापारी से बंदूक की नोक पर 65 लाख की लूट को अंजाम दिया था. लूट करने के बाद इन लोगों ने उस पैसे से एक मारुति जिप्सी और मारुति अर्टिगा गाड़ी खरीदी थी. दिल्ली में हुई इस लूट के बाद लोकल पुलिस के साथ स्पेशल सेल को भी केस को सुलझाने की जिम्मेदारी दी गई थी.

करीब एक महीने की कड़ी मेहनत के बाद स्पेशल सेल के इंस्पेक्टर शिव कुमार को योगेंद्र नाम के आरोपी के बारे में सूचना मिली ये जानकारी एसीपी अत्तर सिंह से साझा की दोनों ने जानकारी की पुष्टि करने के बाद लूटेरो के बारे में स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद कुमार कुशवाह को दी. लुटेरो की सटीक जानकारी मिलने के बाद पहले सबसे पहले योगेंद्र को पिस्तौल के साथ सिरी फोर्ट बस स्टैंड के पास से गिराफ्तार किया.

योगेंद्र की निशानदेही पर लूट के मास्टरमाइंड सुनील और राजेश को नरेला से गिरफ्तार किया. सुनील नेशनल लेवल का रेसलर रह चुका है. पुलिस की पूछताछ में तीनों ने बताया कि सुनील ने लूट की पूरी साज़िश रची, सुनील को ही व्यापारी द्वारा मोती रकम ले जाने की जानकारी मिली जिसके बाद इन्होंने हथियारों का इंतज़ाम किया और 1 अगस्त को रात के 9 बजे पैसे के साथ अपने घर जाते वक्त मोहम्मद शज़ब की गाड़ी को ओवरटेक करके हथियार के बल पर लूट को अंजाम दिया विरोध करने पर बदमाशों ने हवाई फायरिंग भी कर दी थी.

बदमाशों ने पुलिस को बताया कि लूट के बाद तीनों गोआ, मुम्बई और कोहलपुर में जाकर लूट के पैसो से पार्टी की और एक मारुति जिप्सी और मारुति अर्टिगा भी खरीदी. पुलिस ने इनके पास से दोनों गाड़ी, साढ़े सात लाख रुपए कैश और हथियार भी बरामद किए है. 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close