हरियाणा के ज्यादातर गांवों में बिल आता है बिजली नहीं , दिल्ली की तरह घटाएं दरें : अरविंद केजरीवाल

दिल्ली सरकार के लिए बिजली की दरें काफी महत्व रखती हैं. इसी के चलते मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हरियाणा सरकार की ओर से बिजली की दरें घटाए जाने की घोषणा पर भी प्रतिक्रिया दी है.

  हरियाणा के ज्यादातर गांवों में बिल आता है बिजली नहीं , दिल्ली की तरह घटाएं दरें  : अरविंद केजरीवाल
हरियाणा में बिजली की दरें घटाए जाने पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दी प्रतिक्रिया (फाइल फोटो)
Play

नई दिल्ली : दिल्ली सरकार के लिए बिजली की दरें काफी महत्व रखती हैं. इसी के चलते मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हरियाणा सरकार की ओर से बिजली की दरें घटाए जाने की घोषणा पर भी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने एक ट्वीट कर के कहा कि खट्टर साहिब ने हरियाणा में बिजली के दाम कम किए हैं लेकिन ये बहुत कम है. हरियाणा में भी बिजली दिल्ली जितनी सस्ती की जाए. गौतलब है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी हरियाणा से संबंध रखते हैं. केजरीवाल ने कहा कि हरियाणा सरकार को दिल्ली की तरह बिजली की दरें घटाने के लिए काम करना चाहिए.

हरियाणा सरकार पर किया हमला
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हरियाणा सरकार पर हमला करते हुए कहा कि, हरियाणा के अधिकतर गाँवों में बिजली आती ही नहीं है. केवल बिल आते हैं. दिल्ली की तरह हरियाणा के भी हर गाँव में 24 घंटे बिजली दो.

ये भी पढ़ें : आप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की टीशर्ट दिखाते हुए कहा, 56 इंच का सीना नहीं हो पाएगा

दिल्ली सरकार का दावा चार साल से नहीं बढ़ाए दाम
हाल ही में डीईआरसी ने साल 2018-19 के लिए बिजली की नई दरों की घोषणा की है. दिल्ली सरकार का दावा है कि दिल्लवासियों को बड़ी राहत देते हुए बिजली की दरों को घटा दिया गया है. नई दरों की घोषणा से पहले केजरीवाल सरकार ने कहा कि पिछले चार साल से बिजली की दरें नहीं बढ़ी हैं, हालांकि, जानकारों का यह मानना है कि बिजली के रेट सीधे तौर पर भले ही नहीं बढ़ाए गए हों, लेकिन 3.70 फीसदी पेंशन फंड के नाम पर सरचार्ज लगाया गया था.