ZEE NEWS से इंटरव्यू में बोले अरविंदर सिंह लवली, जिस नेता में थोड़ा भी आत्मसम्मान वो कांग्रेस में नहीं रह सकता

तीन दिन पहले ही कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हुए अरविंदर सिंह लवली ने शुक्रवार (21 अप्रैल) को ज़ी न्यूज़ से इंटरव्यू में कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस का सारा सिस्टम बिखर गया है.

ज़ी न्यूज़ डेस्क | Updated: Apr 21, 2017, 05:45 PM IST
ZEE NEWS से इंटरव्यू में बोले अरविंदर सिंह लवली, जिस नेता में थोड़ा भी आत्मसम्मान वो कांग्रेस में नहीं रह सकता
कांग्रेस का सारा सिस्टम बिखर गया है- लवली (टीवी ग्रैब)

नई दिल्ली: तीन दिन पहले ही कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हुए अरविंदर सिंह लवली ने शुक्रवार (21 अप्रैल) को ज़ी न्यूज़ से इंटरव्यू में कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस का सारा सिस्टम बिखर गया है. लवली ने कहा, 'कांग्रेस अब मर चुकी है, कांग्रेस की कार्यशैली से नाराज होकर साथ छोड़ा.'

उन्होंने दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस की वरिष्ठ नेता शीला दीक्षित पर भी निशाना साधा और उन्हें कांग्रेस पार्टी पर ‘बोझ’ करार दिया. लवली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि उनके (पीएम मोदी के) के नेतृत्व ने मेरी सोच बदल दी.

कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर भी निशाना साधते हुए लवली ने कहा कि वे (राहुल गांधी) दो साल से मेरी बात नहीं सुन रहे थे. उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में बुरी तरह हारने के बाद भी कांग्रेस ने सबक नहीं लिया. लवली ने कहा कि जिस नेता में थोड़ा भी आत्मसम्मान है वो कांग्रेस में नहीं रह सकता. 

WATCH VIDEO

भाजपा नेता ने अजय माकन औऱ शीला दीक्षिक को गद्दार बताते हुए कहा कि अब कांग्रेस वो पार्टी नहीं रही जिसके लिए मैंने संघर्ष किया था.

इंटरव्यू में अरविंदर सिंह लवली की कही मुख्य बातें 

शीला दीक्षित की तरह बोझ नहीं बन सकता
मंगलवार (18 अप्रैल) को भाजपा में शामिल हुए लवली ने एक समय मार्गदर्शक रही पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित पर निशाना साधते हुए उन्हें कांग्रेस पार्टी पर ‘बोझ’ करार दिया. लवली ने कहा कि शीला दीक्षित एमसीडी चुनाव में कांग्रेस के प्रचार अभियान से पूरी तरह से दूर हैं और वह बोझ बन गई हैं.

लवली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व ने मेरी सोच बदल दी. इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि जिस नेता में थोड़ा भी आत्मसम्मान वो कांग्रेस में नहीं रह सकता.

अब कांग्रेस में संघर्ष का जज़्बा नहीं रहा
लवली ने आरोप लगाया कि मैंने कांग्रेस में लम्बे समय तक रहकर कांग्रेस नेतृत्व को जागृत करने का प्रयास किया लेकिन जिस तरह इस नगर निगम चुनाव में कांग्रेस के टिकट बेचे गये उससे मुझे काफी दुख हुआ

टिकट बंटवारे में अजय माकन की मनमानी
लवली ने नगर निगम चुनाव में अजय माकन पर टिकट बंटवारे की मनमानी का आरोप.

ये वो कांग्रेस नहीं जिसके लिए मैंने संघर्ष किया था.
उन्होंने कहा कि मैं लम्बे समय से कांग्रेस को नर सेवा, नारायण सेवा के उद्देश्य से भटकता देख कर कुंठित हो रहा था. पर गत कुछ महीनों में जब मैंने यह देखा कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी तो झुग्गियों में प्रवास कर गरीबों की समस्याओं को उठा रहे हैं वहीं कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष लोदी गार्डन में समाज के उच्च वर्ग से चर्चाओं में समय दे रहे हैं तो मुझे लगा कि अब कांग्रेस पथ भ्रष्ट हो रही है।

कई नेता कांग्रेस छोड़कर भाजपा में जाना चाहते हैं

लवली ने कहा कि पार्टी खत्म हो गई है। उन्होंने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ए के वालिया द्वारा एमसीडी चुनाव में टिकट बेचे जाने के आरोप के विषय को उठाया. उन्होंने कहा कि किसी ने इन शिकायतों पर ध्यान नहीं दिया. कांग्रेस के कई नेताओं का पिछले दो वर्षों से दम घुट रहा है और वे भाजपा में जाना चाहते हैं.

लवली ने बताया कि बंद कमरे में कांग्रेस के नेता भी नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हैं. उन्होंने अजय माकन को कांग्रेस पार्टी का विलेन बताते हुए कहा कि सारा देश मानता है कांग्रेस निपट गई.

कौन हैं अरविंदर सिंह लवली
कांग्रेस की तरफ से चार बार दिल्ली के विधायक रहे.
2003 में शीला सरकार में मंत्री बने.
दिल्ली की शीला सरकार में परिवहन और शिक्षा मंत्री रहे.
साल 1998 में पहली बार दिल्ली की गांधी नगर सीट से विधायक चुने गए.
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के सबसे युवा अध्यक्ष रह चुके हैं.
साल 2015 में दिल्ली विधानसभा चुनाव नहीं लड़ा.
दिल्ली विश्वविद्यालय से राजनीति विज्ञान की पढ़ाई की.