अगर मेरे शब्द का अर्थ 'नीच' है तो मैं माफी मांगता हूं: मणिशंकर अय्यर

मणिशंकर अय्यर ने अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा कि जब मैंने 'नीच' कहा तो मेरा मतलब निचले स्तर से था. इसका कोई और मतलब निकलता है तो मैं माफी मांगता हूं.

ज़ी न्यूज़ डेस्क ज़ी न्यूज़ डेस्क | Updated: Dec 7, 2017, 06:31 PM IST
अगर मेरे शब्द का अर्थ  'नीच' है तो मैं माफी मांगता हूं: मणिशंकर अय्यर
अय्यर ने कहा कि पार्टी में किसी पोस्ट पर नहीं हूं, इसलिए पीएम को उनकी ही भाषा में जवाब दे सकता हूं....(फोटो साभार: ANI)

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर के अमर्यादित बयान पर बवाल मच गया है. कांग्रेस डैमेज कंट्रोल में जुट गई है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी का रुख साफ करते हुए कहा है कि वह अय्यर के बयान से सहमत नहीं है. अय्यर को माफी मांगनी चाहिए. उधर, मणिशंकर अय्यर ने अपने बयान पर सफाई दी है. अय्यर ने कहा कि जब मैंने 'नीच' कहा तो मेरा मतलब निचले स्तर से था. हिंदी मेरी मातृभाषा नहीं है, इसलिए जब मैं हिंदी बोलता हूं तो अंग्रेजी में सोचता हूं. ऐसे में इसका कोई और मतलब निकलता है तो मैं माफी मांगता हूं. उन्होंने कहा कि पीएम ने क्यों बाबा साहब अबेंडकर सेंटर के उद्घाटन पर कांग्रेस और राहुल गांधी पर निशाना साधा? हर रोज पीएम मोदी हमारे नेताओं के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते हैं. मैं एक फ्रीलांस कांग्रेसी हूं, मैं पार्टी में किसी पोस्ट पर नहीं हूं, इसलिए पीएम को उनकी ही भाषा में जवाब दे सकता हूं. 

उधर, राहुल ने ट्वीट करते हुए कहा, "पीएम मोदी पर मणिशंकर द्वारा दिए गए बयान से हम सहमत नहीं है. उम्मीद करते हैं कि अय्यर माफी मांगेंगे." राहुल ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि पीएम मोदी और उनकी पार्टी ने कई बार उनका अपमान किया है.  

इधर, प्रधानमंत्री मोदी ने पलटवार करते हुए पीएम मोदी पर पलटवार किया. उन्होंने कहा कि अय्यर का बयान मुगल जैसी मानसिकता को दर्शाता है. उन्होंने सूरत में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि अय्यर ने पूरे गुजरात का अपमान किया है और जनता अपना वोट देकर नीच कहने वालों को जवाब दें. उन्होंने रैली में उपस्थित लोगों से पूछा कि क्या मैं नीच काम करता हूं? क्या मैं ऊंच नीच में भेद करता हूं? 

गुजरात में चुनाव प्रचार में जुट पीएम मोदी ने कहा कि भले ही मुझे नीच कहें लेकिन मैं काम गांधीजी के विचारों के अनुरूप करता हूं. मान-मर्यादा भारतीय जनता पार्टी का संस्कार है. उन्होंने आरोप लगाया कि मणिशंकर अय्यर अक्सर मुझे नीच कहते हैं. पीएम मोदी ने याद दिलाया कि गुजरात की सीएम रहने के दौरान भी कांग्रेस उनका अपमान करती रही है. मुझे जेल भेजने की साजिश रची गई थी. उन्होंने भरोसा जताया कि जनता बताएगी कि आपने गुजरात के बेटे के साथ क्या न्याय किया? पीएम मोदी ने कहा कि कोई भी बीजेपी कार्यकर्ता उनके लिए अपशब्द नहीं कहेगा. हमारे संस्कार अनुशासन सिखाते हैं. 

गौरतलब है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को डॉ अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर का उद्घाटन करते हुए नेहरू गांधी परिवार पर परोक्ष निशाना साधते हुए कहा कि बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर के जाने के बरसों बाद तक राष्ट्र निर्माण में उनके योगदान को मिटाने के प्रयास किए जाते रहे लेकिन जिस 'एक परिवार' के लिए ये सब किया गया, उस परिवार से कहीं ज्यादा लोग आज बाबा साहेब से प्रभावित हैं. इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने भाषा की मर्यादा को तोड़ दिया. उन्‍होंने कहा कि अंबेडकर की याद में बनी इमारत के उद्घाटन के मौके पर ऐसी बात नहीं करनी चाहिए.

इस मुद्दे को पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात रैली में उछाला था. अब उसी मसले पर बोलते हुए मणिशंकर अय्यर ने कहा, ''...इसमें कोई सभ्‍यता नहीं और ऐसे मौके पर इस किस्‍म की गंदी राजनीति करने की क्‍या आवश्‍यकता है?'' इस पर प्रतिक्रिया देते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने सूरत में चुनावी रैली में कहा कि उन्‍होंने मेरा ही नहीं पूरे गुजरात का अपमान किया है. उन्‍होंने जनता से सवाल किया कि क्‍या मैंने कोई नीच काम किया?