सीमा सुरक्षा बढ़ाने, खुफिया सूचनाओं के आदान-प्रदान पर सहमत हुए भारत और नेपाल

भारत की यात्रा पर आए नेपाल के एपीएफ के प्रतिनिधिमंडल ने भारत के एसएसबी के साथ चार दिवसीय वार्ता संपन्न की. 

सीमा सुरक्षा बढ़ाने, खुफिया सूचनाओं के आदान-प्रदान पर सहमत हुए भारत और नेपाल
(प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली: भारत और नेपाल के सीमा रक्षा बल दोनों देशों के बीच 1,751 किलोमीटर लंबी ‘पोरस सीमा’ (कहीं बंद, कहीं खुली) के पास अपराध रोकने की खातिर सहयोग बढ़ाने और समय रहते खुफिया सूचनाओं के आदान-प्रदान पर सहमत हुए हैं. 

भारत की यात्रा पर आए नेपाल के सशस्त्र पुलिस बल (एपीएफ) के प्रतिनिधिमंडल ने दिल्ली में अपने भारतीय समकक्ष सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के साथ चार दिवसीय वार्ता संपन्न की. 

नेपाली पक्ष का नेतृत्व एपीएफ के महानिरीक्षक शैलेंद्र खनाल जबकि भारतीय पक्ष का नेतृत्व एसएसबी के महानिदेशक रजनीकांत शर्मा कर रहे थे.

दोनों पक्षों ने सीमा के मौजूदा हालात पर की चर्चा
एसएसबी के एक प्रवक्ता ने बताया कि इस बैठक का प्रमुख उद्देश्य दोनों बलों के बीच आपसी सहयोग एवं समन्वय बढ़ाना था. दोनों पक्षों ने सीमा के मौजूदा हालात, सीमा के पास होने वाले अपराधों जैसे विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की. 

प्रवक्ता ने बताया कि हर स्तर पर नियमित तौर पर समन्वय बैठकें आयोजित करते रहने पर सहमति बनी. इस सालाना बैठक का अगला चरण अगले साल नेपाल में आयोजित किया जाएगा.

(इनपुट - भाषा)

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close