जम्मू-कश्मीरः कुलगाम में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को किया ढेर, 1 जवान भी शहीद

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम और त्राल में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ की खबर है. कुलगाम में एक आतंकी को सुरक्षाबलों ने मार गिराया है. इस मुठभेड़ में एक जवान के शहीद होने की भी खबर है.

जम्मू-कश्मीरः कुलगाम में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को किया ढेर, 1 जवान भी शहीद
कुलगाम में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ जारी (एनएनआई)

नई दिल्लीः जम्मू-कश्मीर के कुलगाम और त्राल में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ की खबर है. कुलगाम जिले में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में सेना के एक जवान के शहीद होने की खबर है. इस मुठभेड़ में एक आतंकी भी मारा गया है. सेना के सूत्रों ने बताया कि कुलगाम के नौबग कुंड गांव में आतंकियों के साथ गोलीबारी में एक जवान गंभीर रूप से घायल हो गया था. घायल जवान की बाद में मौत हो गई. इस मुठभेड़ में एक आतंकी भी मारा गया. पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि सुरक्षा बलों ने कुलगाम के नौबग कुंड गांव में आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद मंगलवार सुबह घेराबंदी और तलाशी अभियान शुरू किया था.

यह भी पढ़ेंः  VIDEO: ऑपरेशन ऑल आउट से बौखलाए आतंकी जाकिर मूसा की गीदड़ भभकी

वहीं दूसरी तरफ एक सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच एक और मुठभेड़ की खबर है. यह मुठभेड़ पुलवामा के त्राल में चल रही है. हालांकि यहां कितने आतंकी छिपे है इसकी जानकारी नहीं मिल सकी है. लेकिन खबर लिखे जाने तक सुरक्षाबलों और आतंकियों की तरफ से फायरिंग जारी है. जानकारी के मुताबिक यह मुठभेड़ त्राल के लाम इलाके में चल रही है. आपको बता दें कि त्राल जम्मू कश्मीर के आतंकी बुरहान वानी का गढ़ रहा है. यहां सेना ने पिछले कई बड़े एनकाउंटर को अंजाम देकर कई कुख्यात आतंकियों को मार गिराया है. आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर में भारतीय सुरक्षाबलों का 'ऑपरेशन ऑलआउट' जारी है,  इस ऑपरेशन के तहत कश्मीर में आतंकियों का सफाया किया जा रही है.

यह भी पढ़ेंः जम्मू-कश्मीर में पूरी तरह से शांति होने तक जारी रहेगा 'ऑपरेशन ऑल आउट' : डीजीपी

सोमवार को ही जम्मू-कश्मीर के पुलिस प्रमुख एस पी वेद ने कहा था कि पिछले साल की तुलना में इस साल कश्मीर में पथराव की घटनाओं में 90 फीसदी कमी आई है और इसका श्रेय कश्मीर के लोगों को जाता है. वेद नोटबंदी और शीर्ष आतंकवादी कमांडर के खिलाफ कार्रवाई सहित कई अन्य कारकों को भी इसकी वजह बताते हैं. पुलिस महानिदेशक ने बताया कि पिछले साल एक दिन में पथराव की 40-50 घटनाएं होनी सामान्य बात थी. उन्होंने बताया, 'कश्मीर घाटी में पिछले साल की तुलना में इस साल पथराव की घटना में 90 फीसदी कमी आई है. यह एक बड़ी गिरावट है.'

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close