MP: मोक्षदायिनी शिप्रा में विसर्जित हुईं अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां

मोक्षदायिनी शिप्रा नदी में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियों का विसर्जन किया गया. 

MP: मोक्षदायिनी शिप्रा में विसर्जित हुईं अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां
(फाइल फोटो)

उज्जैन: उज्जैन में आज पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा निकाली. शहर के आमजनों ने कलश यात्रा को श्रद्धासुमन अर्पित किए जिसके बाद यात्रा रामघाट पहुंची. रामघाट पर पवित्र मोक्षदायिनी शिप्रा नदी में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियों का विसर्जन किया गया. धार्मिक नगरी उज्जैन में गुरुवार रात ही भोपाल से अटल जी का अस्थि कलश पहुंच गया था. 

आज सुबह उज्जैन शहर के नानाखेड़ा स्थित पंडित दीनदयाल चौराहे से पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा प्रारंभ हुई. यात्रा शहर के फ्रीगंज क्षेत्र से होती हुई रामघाट पहुंची. रास्ते में जगह-जगह आमजनों ने पुष्प अर्पित कर श्रद्धासुमन व्यक्त किए. यात्रा के पीछे आमजन, भाजपा कार्यकर्ता और गणमान्य नागरिक अटल जी अमर रहे के जयकारे लगाते हुए रामघाट तक पहुंचे. 

वाजपेयी का अस्थि कलश भोपाल लाया गया, प्रदेश की 10 प्रमुख नदियों में किया जाएगा विसर्जित

रामघाट पर यात्रा के पहुंचने के बाद अटल जी के अस्थि कलश को श्रद्धाजंलि सभा पर स्थापित किया गया जिसके बाद साधु-संतों ने अटल जी के जीवन पर प्रकाश डाला. भाजपा नेताओं ने अटल जी को श्रद्धाजंलि अर्पित की और उसके बाद विधि-विधान से मंत्रोच्चार के साथ कलश का पूजन किया. भाजपा नेताओं ने रामघाट पर नाव में बैठकर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां शिप्रा नदी में प्रवाहित की. 

इस दौरान मध्यप्रदेश के ऊर्जा मंत्री पारस जैन, मंत्री लालसिंह आर्य, प्रदेश महामंत्री बंशीलाल गुर्जर, संगठन मंत्री प्रदीप जोशी, विधायक सुदर्शन गुप्ता, दिलीप शेखावत, अनिल फिरोजिया सहित कई भाजपा नेता, साधु-संत व गणमान्य मौजूद रहे. 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close