भोपाल में इस शख्स ने किए 33 कत्ल, बोला- परिवार से दूर रहने के कष्ट से देता हूं मुक्ति

जिन लोगों को तुमने मारा है, जिनकी हत्या की है, उन सभी की आत्माएं तुम्हारे खिलाफ हो गई हैं. जैसे तुमने उन्हें मारकर उनके परिवार को दुख दिया है, वैसे ही वह तुम्हारे परिवार को तकलीफ दे रहे हैं.

भोपाल में इस शख्स ने किए 33 कत्ल, बोला- परिवार से दूर रहने के कष्ट से देता हूं मुक्ति
प्रतीकात्मक तस्वीर
Play

नई दिल्लीः राजधानी भोपाल में सीरियल किलिंग के आरोप में गिरफ्तार आदेश खांबरा द्वारा की गई क्लीनरों और ट्रक ड्राइवरों की हत्या का सिलसिला है कि थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. मंगलवार को आदेश ने तीन और हत्याओं की बात कुबूल करते हुए बताया कि उसने ये हत्याएं 2010 में की थीं और शवों को भिंड और ब्यावरा राघौगढ़ के रास्ते में फेंक दिया था. आदेश द्वारा तीन और हत्याओं की बात कुबूलने पर उसके द्वारा की गई हत्याओं का आंकड़ा 33 पहुंच गया है. बता दें खांबरा द्वारा की गई हत्याओं का आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है. मध्य प्रदेश के अलावा छत्तीसगढ़, झारखंड, बिहार और उड़ीसा में भी खांबरा द्वारा ट्रक ड्राइवरों की हत्याओं की खबर है.

दो सगे भाइयों की हत्या
बता दें खांबरा को भोपाल के मिसरोद में ड्राइवर की हत्या और ट्रक लूटने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. जिसके बाद से वह लगातार नए-नए खुलासे कर रहा है. खांबरा ने वर्ष 2010 में गोत्रा कंपनी के ट्रक ड्राइवर और क्लीनर की हत्या की बात भी कुबूल की है. मिली जानकारी के मुताबिक 2010 में खांबरा ने जिन दो लोगों की हत्या की थी वे दोनो ही सगे भाई थे. जिसके बाद मृतक मनोज और राजेश यादव के परिवार ने उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट पाढ़र चौकी थाना बैतूल में दर्ज कराई थी. मनोज और राजेश के अलावा 2010 में ही खांबरा ने एक और हत्या की थी.

भोपाल : ट्यूटर ने 8 वर्षीय छात्र को किडनैप कर गला घोंटकर मारा, बच्चे की मां से थे अवैध संबंध

परिवार से दूर रहने के कष्ट से मुक्ति देता हूं
आदेश ने 2010 में ही ग्वालियर में भी एक ट्रक ड्राइवर की हत्या की थी. आदेश ने सुपारी से भरे एक ट्रक चालक की पहले तो हत्या कर दी उसके बाद उसके शव को इटावा और भिंड के रास्ते में फेंक दिया. शव को फेंकने के बाद खांबरा ने ट्रक को आगरा में छोड़ दिया और खुद वापस भोपाल आ गया. खांबरा से जब पुलिस ने उसके ऐसा करने के पीछे की वजह पूछी तो उसने कहा कि 'मैं ड्राइवरों और क्लीनरों को मारकर उन्हें उनके परिवार से दूर रहने के कष्ट से मुक्ति देता हूं. मैं उनके कष्ट दूर करता हूं.'

सनसनीखेज: शक में की पत्‍नी की निर्मम हत्‍या, प्राइवेट पार्ट में मिली बियर की बोतल

ऐसे कुबूली हत्याओं की बात-
जानकारी के मुताबिक पहले तो खांबरा ने कुछ भी नहीं कहा, लेकिन बहुत डराने के बाद उसने सभी हत्याओं का जुर्म कुबूल कर लिया. पूछताछ के दौरान पुलिस ने खांबरा से कहा कि 'तुम्हे क्या लगता है, एक साल में तुम्हारे बेटे का चार बार एक्सीडेंट कैसे हो गया. जिन लोगों को तुमने मारा है, जिनकी हत्या की है, उन सभी की आत्माएं तुम्हारे खिलाफ हो गई हैं. जैसे तुमने उन्हें मारकर उनके परिवार को दुख दिया है, वैसे ही वह तुम्हारे परिवार को तकलीफ दे रहे हैं. तुमने जो किया है उसकी सजा तुम्हारे पूरे परिवार को भुगतनी पड़ेगी.' बेटे के एक्सीडेंट की बात सुनने पर खांबरा टूट गया और उसने हत्याओं की बात कुबूल कर ली.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close