सरकार की कार्रवाई से नाराज नक्सली छत्तीसगढ़ चुनावों में बीजेपी के नेताओं को बना सकते हैं निशाना

इस बाबत खुफिया एजेंसियों ने गृह मंत्रालय को एक रिपोर्ट भेजी है. रिपोर्ट के आधार पर नक्सलियों के टॉप कमांडर की लिस्ट तैयार कर ली गई है.

 सरकार की कार्रवाई से नाराज नक्सली छत्तीसगढ़ चुनावों में बीजेपी के नेताओं को बना सकते हैं निशाना
नक्सली लोगों से कह रहे हैं कि जब भी वे बीजेपी नेताओं को देखे गांव में घुसने न दें. (फाइल फोटो)
Play

नई दिल्ली: खुफिया एजेंसियों ने गृह मंत्रालय को भेजी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि छत्तीसगढ़ के चुनावों में नक्सली आम लोगों को बीजेपी नेताओं के खिलाफ लोगों को भड़काने में लगे हैं. वहीं, एजेंसियां को शक है कि चुनावों के दौरान बीजेपी के नेताओं को नक्सली निशाना बना सकते हैं. खुफिया एजेंसियों का अलर्ट उस वक्त आया है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या करने की नक्सलियों की साजिश का बड़ा खुलासा हुआ है और इसके साथ-साथ नक्सलियों से मिलकर देश विरोधी साजिश के आरोप में पांच आरोपियों को पुणे पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

नक्सल गतिविधियों पर नजर रखने वाले एक अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर जी न्यूज से  कहा कि नक्सली आम लोगों को बीजेपी नेताओं के खिलाफ भड़का रहे हैं. वो नक्सल प्रभावित इलाकों में लोगों से कह रहे हैं कि जब भी वो बीजेपी नेताओं को देखे गांव में घुसने न दें. रिपोर्ट के मुताबिक खुफिया एजेंसियों को शक है कि नक्सली बीजेपी के कुछ नेताओं को चुनावों के दौरान निशाना बना सकते हैं जिससे वो ये दिखा सके कि उनका प्रभाव आज भी इन इलाकों में बना हुआ है.

Exclusive: नक्सलियों के खिलाफ आपरेशन 'ऑल आउट' की तैयारी, 20 मोस्ट वांटेड नक्सलियों की लिस्ट जारी

खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट के मुताबिक, नक्सली देश के कई शहरों में शहरी नक्सलवाद को मजबूत करने में लगे हुए हैं और कार्यकर्ताओं के साथ साथ प्रोफेसर और कुछ सोशल एक्टिविस्ट को जोड़ने की कोशिश में लगे हुए हैं ताकि नक्सल मूवमेंट को शहरों में फैलाया जा सके. गृह मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक दिल्ली में कुछ दिनों पहले हुए नक्सलियों के समर्थन में एक कार्यक्रम किया गया था. नक्सली के टॉप कमांडर्स इसी तर्ज पर देश के कई शहरों में नक्सल समर्थित कार्यक्रम करने की साजिश में लगे हुए हैं. 

नक्सलियों के खिलाफ बड़ी कारवाई करने के लिए सुरक्षाबलों ने नई रणनीति तैयार की है. कश्मीर में मोस्ट वांटेड आतंकियों के खिलाफ हो रही कार्रवाई की तर्ज पर अब नक्सलियों के टॉप कमांडर्स की लिस्ट बनाई गई है. इस लिस्ट में छत्तीसगढ़, उड़ीसा, झारखंड, तेलांगना और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में फैले नक्सलियों के टॉप कमांडर्स को मोस्ट वांटेड लिस्ट में शामिल किया गया है.

भीमा कोरेगांव हिंसा मामला: IB रिपोर्ट में खुलासा, कई शहरों में मौजूद हैं नक्सलियों के 5 मास्टरमाइंड

जी न्यूज के पास मौजूद नक्सलियों के टॉप कमांडर्स की लिस्ट मौजूद है. इस लिस्ट को नक्सल प्रभावित राज्यों की पुलिस के साथ-साथ अर्धसैनिक बलों को भी मुहैया कराई गई है जो एंटी नक्सल ऑपरेशन में तैनात हैं. गृह मंत्रालय और खुफिया एजेंसियों की मदद से तैयार ऐसी मोस्ट वांटेड लिस्ट नक्सलियों के खिलाफ पहली बार बनाई गई है. लिस्ट में टॉप नक्सलियों की तस्वीरों के साथ उनके संभावित ठिकानों की भी जानकारी मुहैया कराई गई है, जिससे एजेंसियों के लिए इनकी पहचान करना आसान होगा.

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक, नक्सली कमांडर्स एक राज्य से दूसरे राज्यों में अपने ठिकानों को बदलते रहते हैं. ऐसे में उन पर लगातार नजर रखना एक बड़ी चुनौती होती है. कुछ नक्सलियों की तस्वीर भी एजेंसियों के पास नहीं है, ऐसे में उनकी पहचान करना हमेशा ही मुश्किल होता है. मोस्ट वांटेड लिस्ट में हिडमा जैसे नक्सली को भी शामिल किया गया है जिस पर सुकमा में सीआरपीएफ के 12 जवानों की हत्या का आरोप है. यहीं नहीं, इस लिस्ट में कुछ ऐसे भी नक्सली हैं जिन्होनें छत्तीसगढ़ के दरभा घाटी में सीआरपीएफ के 75 जवानों की हत्या में शामिल रहे हैं.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close