सतनाः चाय गिरने पर हुआ विवाद तो ट्रेन की पटरी पर जा लेटा युवक

बता दें यह पूरा मामला एक यात्री पर चाय गिरने से शुरू हुआ था. जो बाद में इतना बढ़ गया कि दूसरे युवक ने उसे जान से मारने की धमकी भी दे दी. ऐसे में पहले तो युवक ट्रेन से उतरकर लोगों से मदद मांगने लगा

सतनाः चाय गिरने पर हुआ विवाद तो ट्रेन की पटरी पर जा लेटा युवक
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

नई दिल्लीः मध्य प्रदेश के सतना स्टेशन में उस वक्त हडकंप मच गया जब एक युवक अचानक ही जाकर ट्रेन की पटरी पर बैठ गया. इससे पहले की स्टेशन पर मौजूद ट्रेन आगे बढ़ती मौके पर मौजूद लोगों ने अक्लमंदी दिखाते हुए युवक की जान बचा ली. हालांकि, युवक के इस तरह से बीच पटरी पर जाकर बैठ जाने से पूरे स्टेशन पर हल्ला मच गया. वहीं मौके पर पहुंचे आरपीएफ ने युवक को गिरफ्तार कर लिया और रेलवे एक्ट के तहत गिरफ्तार कर लिया और कार्यवाई की. बता दें यह पूरा मामला एक यात्री पर चाय गिरने से शुरू हुआ था. जो बाद में इतना बढ़ गया कि दूसरे युवक ने उसे जान से मारने की धमकी भी दे दी. ऐसे में पहले तो युवक ट्रेन से उतरकर लोगों से मदद मांगने लगा, लेकिन जब किसी ने उसकी बात नहीं सुनी तो वह जाकर पटरी पर बैठ गया और जान देने की धमकी देने लगा. जिसके बाद स्टेशन पर मौजूद लोगों ने ट्रेन रुकवा कर युवक की जान बचाई.

चाय गिरने से शुरू हुई बहस
दरअसल, यह युवक मुंबई जा रही पवन एक्सप्रेस में सफर कर रहा था. ट्रेन जब सतना स्टेशन पर रुकी तो युवक ने चाय ली, लेकिन अचानक युवक से चाय साथ ही यात्रा कर रहे एक युवक पर गिर गई. चाय गिरने से नाराज यात्री युवक पर भड़क उठा और दोनों में विवाद होने लगा. विवाद बढ़ता देख ट्रेन में मौजूद लोगों ने दोनों को चुप कराने की कोशिश की, लेकिन इसका कोई फायदा नहीं हुआ. वहीं मामूली चाय गिरने की बात को लेकर दोनों में विवाद इतना बढ़ गया कि यात्री अपनी जान बचाने के लिए पहले तो गार्ड के पास भागा, लेकिन मदद न मिलने पर स्टेशन में दूसरों से मदद मागने लगा. जब किसी ने उसकी नहीं सुनी तो जान देने के लिए स्टेशन की पटरी पर जाकर बैठ गया.

ट्रेन रुकवा कर युवक की जान बचाई
बता दें जिस वक्त युवक ट्रेन की पटरी पर बैठा था उसी समय पवन एक्सप्रेस स्टेशन पर खड़ी थी. जैसे ही लोगों ने युवक को ट्रेन की पटरी पर बैठा देखा पहले तो लोगों ने ट्रेन रुकवाई, फिर किसी तरह से युवक को ट्रेन की पटरी से उठाया. वहीं युवक द्वारा इस तरह की हरकत को देखते हुए ट्रेन ड्राइवर ने इसकी सूचना डिप्टी एसएस और आरपीएफ को दी तो उसे रेल अधिनियम 147, 174 के तहत गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस के मुताबिक युवक उत्तर प्रदेश का रहने वाला है और उसने सहयात्री से हुई बहस के चलते ऐसा कदम उठाया है.

सिग्नल होने के बाद भी नहीं चली ट्रेन
बता दें घटना सोमवार की सुबह की है, जब पवन एक्सप्रेस प्लेटफार्म नम्बर 1 पर पहुंची थी. तभी ट्रेन के जनरल कोच में सफर कर रहा एक यात्री, विपिन कुमार स्टेशन से खरीदकर चाय पी रहा था. इस दौरान दूसरे यात्री का धक्का लग गया और चाय छलक गई. इस बात पर दोनों यात्रियों के बीच बहस हो गई. विपिन कुमार ने मार के डर से आप बीती लोको पायलेट को बतानी चाही, लेकिन उन्होंने आरपीएफ से शिकायत करने के लिए कहा. जब बात नहीं बनी तो युवक विपिन कुमार पवन एक्सप्रेस के इंजन के सामने लेट गया. ग्रीन सिग्नल होने के बाद भी गाड़ी रवाना नहीं हो सकी. जैसे तैसे आरपीएफ ने विपिन कुमार को ट्रेक से उठाकर गिरफ्तार कर रेल अधिनियम की धारा 174 147,के तहत कार्यवाही की.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close