कांग्रेस महाअधिवेशन: राहुल गांधी ने कौरवों से की बीजेपी और RSS की तुलना, कहा- भाजपा को सत्ता का नशा

कांग्रेस के महाधिवेशन को संबोधित करते हुए पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, "कौरवों की तरह भाजपा और आरएसएस सत्ता के लिए संग्राम करने को बने हैं. 

कांग्रेस महाअधिवेशन: राहुल गांधी ने कौरवों से की बीजेपी और RSS की तुलना, कहा- भाजपा को सत्ता का नशा
राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस सच्चाई का संगठन है..(फोटो- ANI)

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की तुलना महाभारत के कौरवों से की और कहा कि दोनों संगठन 'सत्ता के लिए लड़ने' हेतु बने हैं. राहुल ने कहा, "सदियों पहले कुरुक्षेत्र में महासंग्राम हुआ था, जिसमें कौरव शक्तिशाली और अहंकारी थे .  जबकि पांडव विनम्र थे, जिन्होंने सच्चाई के लिए युद्ध किया. " कांग्रेस के महाधिवेशन को संबोधित करते हुए पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, "कौरवों की तरह भाजपा और आरएसएस सत्ता के लिए संग्राम करने को बने हैं, किन कांग्रेस सच्चाई की लड़ाई लड़ती है. "

उन्होंने कहा कि लोग इस बात को स्वीकार करेंगे कि भाजपा को सत्ता का नशा है, क्योंकि उनको (भाजपा के लोग) मालूम है कि इस पार्टी का यही लक्ष्य है. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का नाम लिए बगैर उनकी आलोचना करते हुए राहुल ने कहा, "वे (भाजपा) ऐसे शख्स को अपना अध्यक्ष स्वीकार कर सकते हैं, जिनके ऊपर हत्या का आरोप है. लेकिन कांग्रेस में ऐसा नहीं हो सकता, क्योंकि यह सच्चाई का संगठन है. " कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, "भारत सच को स्वीकार करता है."

यह भी पढ़ें- कांग्रेस महाअधिवेशन में राहुल बोले, 'पंडितजी ने मुझसे कहा था कि तुम प्रधानमंत्री बनने जा रहे हो'

राहुल गांधी के भाषण के मुख्य अंश-
- बीजेपी और आरएसएस कौरवों की तरह सत्ता की लड़ाई लड़ रहे हैं जबकि कांग्रेस पांडवों की तरह सत्य और न्याय के लिए लड़ रही है.
- वर्तमान व्यवस्था में रोजगार की बात करें तो हमारा सीधा मुकाबला चीन से है. चीन हमारे देश में हर जगह है. लेकिन आप हमारे युवाओं से पूछिए कि आप क्या करते हैं और आपको जवाब मिलेगा 'कुछ नहीं'. 
- पीछे की पंक्ति में खड़े कार्यकर्ता में भी ऊर्जा है, नेतृत्व क्षमता है, लेकिन हमारे नेताओं और कार्यकर्ताओं के बीच एक दीवार है, उस दीवार को गिराना होगा. चुनावों में जमीनी कार्यकर्ता को टिकट मिलेगा, पैराशूट नेता को नहीं. 
- कांग्रेस देश के संविधान की इज्जत करती है और संघ देश के संविधान को खत्म करके केवल एक ही संविधान लागू करना चाहता है और वह है RSS का संविधान. 
- मीडिया कांग्रेस के बारे में खूब उल्टा-सीधा लिखती है. फिर भी कांग्रेस हमेशा मीडिया की रक्षा और अधिकारों के लिए उनके साथ है और रहेगी. 
- कांग्रेस के नेताओं से जब कोई गलती होती है, तो वे सभी के सामने अपनी गलती स्वीकार करते हैं, लेकिन नरेंद्र मोदी ने देश को बर्बाद कर दिया, फिर भी वे अपनी गलती मानने को तैयार नहीं हैं.
- बीजेपी की राजनीति और धर्म सिर्फ सत्ता को छीनने के लिए है, जबकि हम जनता के लिए खड़े होते हैं उन्हीं के लिए लड़ते हैं. हम नफरत नहीं करते हैं.
- किसान कहते हैं कि खेती से कुछ नहीं बचता, आत्महत्या करनी पड़ती है. नौजवानों को रोजगार नहीं मिल रहा है. नौजवानों ने जो भरोसो नरेंद्र मोदी पर किया वह पूरी तरह टूट गया है.
- अगर हिंदुस्तान को बदलना है तो हर जाति और हर धर्म के लड़के-लड़कियों को समझना होगा. इस देश को ना तो नरेंद्र मोदी बदल सकते हैं ना कोई और. नौजवनों की शक्ति के बिना देश नहीं बदल सकता.
- विदेश नीति पर केंद्र पूरी तरह विफल साबित रहा है. पाकिस्तान लगातार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है. तिब्बत, मालदीव और डोकलाम में चीन की मौजूदगी चिंताजनक है.

इनपुट आईएएनएस से भी 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close