महाराष्ट्र: कई शहरों में एटीएस की छापेमारी, मुंबई के बाद पुणे से एक संदिग्ध गिरफ्तार

वैभव राउत की गिरफ्तारी के बाद एटीएस ने पुणे से एक संदिग्ध को हिरासत में लिया.

महाराष्ट्र: कई शहरों में एटीएस की छापेमारी, मुंबई के बाद पुणे से एक संदिग्ध गिरफ्तार
प्रतीकात्मक फोटो.

राकेश त्रिवेदी, मुंबई: महाराष्ट्र में कई जगहों पर आतंकवाद निरोधक दस्ता (एटीएस) की छापेमारी जारी है. गुरुवार देर रात को पालघर के नालासोपारा इलाके से वैभव राउत को गिरफ्तार करने के बाद एटीएस ने शुक्रवार को पुणे से एक संदिग्ध को हिरासत में लिया है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक शुक्रवार दोपहर करीब तीन बजे एटीएस ने पुणे से एक संदिग्ध व्यक्ति को पूछाताछ के लिए हिरासत में लिया है. 

आपको बता दें कि, मुंबई से सटे पालघर के नालासोपारा पश्चिम स्थित भंडार अली इलाके में गुरुवार देर शाम एटीएस ने वैभव राउत के घर और पास की दुकान में छापेमारी कर भारी मात्रा में जिंदा बम और बम बनाने का सामान बरामद किया था. आपको बता दें कि राउत सनातन संस्था का पदाधिकारी है. वह ‘हिंदु गोवंश रक्षा समिती’ के लिए काम करता है.  
 
राउत की गिरफ्तारी के बाद महाराष्ट्र हिंदू जनजागृती समिती के राज्य संगठक सुनील घनवट ने बताया कि राउत हिंदु गोवंश रक्षा समिती के लिए काम करता है. उधर, भंडार अली इलाके में रहने वाले लोग राउत को एक अच्छा इंसान मानते थे. उन्हें इस बात का अंदाजा नहीं था कि उनके पड़ोस में रहने वाला यह व्यक्ति अपने घर में मौत का सामान इकट्ठा कर रहा है. 

यह भी पढ़ें: मुंबई: नालासोपाला इलाके में एटीएस का छापा, भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद

एटीएस सूत्रों के मुताबिक, पिछले कुछ दिनों से वो लगातार वैभव राउत को ट्रैक कर रहे थे. शक पुख्ता होने पर गुरुवार शाम कार्रवाई को अंजाम दिया गया. वैभव को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक, विस्फोटक के बारे में सूचना मिलने के बाद महाराष्ट्र एटीएस और पालघर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और तलाशी शुरू कर दी. 

एटीएस सूत्रों के मुताबिक, वैभव राउत के घर से 8 देसी बम मिले हैं जबकि, घर से थोड़ी ही दूरी पर मौजूद दुकान में बम बनाने की सामग्री मिली है. इसमें गन पावडर और डेटोनेटर शामिल हैं.

 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close