कठुआ बलात्कार मामले में पुलिस की जांच पर कभी सवाल नहीं उठाए : गुलाम अहमद मीर

मीर की यह टिप्पणी ऐसे वक्त में सामने आई है जब भारतीय जनता पार्टी ने सुबह ही एक वीडियो जारी किया जिसमें कथित तौर पर उन्हें कठुआ बलात्कार मामले की पुलिस जांच को प्रेरित बताते हुए और उसके खिलाफ लोगों के प्रदर्शन का बचाव करते हुए देखा गया. 

कठुआ बलात्कार मामले में पुलिस की जांच पर कभी सवाल नहीं उठाए : गुलाम अहमद मीर
बीजेपी ने राहुल गांधी से मीर को हटाने की भी मांग की थी.(फाइल फोटो)

जम्मू: कांग्रेस की जम्मू-कश्मीर इकाई के अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर ने रविवार(15 अप्रैल) दावा किया कि उनकी मांग पर ही कठुआ बलात्कार के आरोपियों को गिरफ्तार किया गया और कहा कि उन्होंने इस मामले में राज्य पुलिस की जांच पर कभी सवाल नहीं उठाए. मीर की यह टिप्पणी ऐसे वक्त में सामने आई है जब भारतीय जनता पार्टी ने सुबह ही एक वीडियो जारी किया जिसमें कथित तौर पर उन्हें कठुआ बलात्कार मामले की पुलिस जांच को प्रेरित बताते हुए और उसके खिलाफ लोगों के प्रदर्शन का बचाव करते हुए देखा गया.

उन्होंने कहा, “यह एक पुराना वीडियो है. मैंने वह बयान मार्च में दिया था. उन्होंने कहा कि यह मास्टरमाइंड और मुख्य आरोपियों और अन्य की गिरफ्तारी ( कठुआ मामले में ) से पहले का था. ’’ भगवा पार्टी ने राहुल गांधी से मीर को हटाने की भी मांग की. मीर ने बताया, “ यह मेरे बयान के बाद ही था कि मुख्य आरोपी और मास्टरमाइंड, सांजी राम और अन्य को गिरफ्तार किया गया.  मैंने कभी जांच ( अपराध शाखा की ) पर सवालिया निशान नहीं लगाए. मैंने कभी सीबीआई जांच की मांग नहीं की. ”

भाजपा के नई दिल्ली स्थित मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान चलाए गए इस वीडियो में मीर संवाददाताओं से कथित रूप से यह कहते हुए दिख रहे हैं कि स्थानीय लोगों का मानना है कि जांच प्रेरित थी और मुख्य अपराधी अब भी आजाद घूम रहे हैं.  

आपको बता दें कि इससे पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने रविवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से जम्मू एवं कश्मीर में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर को बर्खास्त करने की मांग की थी. मीर ने कहा था कि कठुआ में एक बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या करने के मामले में हो रही जांच प्रेरित होकर की जा रही है. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने संवाददाताओं से कहा, "मीर ने बयान दिया था कि स्थानीय जनता मानती है कि कठुआ मामले के मुख्य आरोपी अभी तक आजाद हैं और जांच अभिप्रेरित होकर की जा रही है तथा वे मामले को दबाना चाहते हैं. "

जावड़ेकर ने संवाददाताओं को एक वीडियो दिखाया जिसमें मीर को यह कहते हुए सुना जा रहा है, "किसी को बचाया जा रहा है .  स्थानीय जनता मानती है कि जांच किसी एक पक्ष से प्रेरित है, मुख्य आरोपी को जाने दिया जा रहा है, वे अपनी राजनीतिक पहुंच का फायदा उठाने की कोशिश कर रहे हैं. "

इनपुट भाषा से भी 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close