फारूक अब्दुल्ला ने दाखिल किया पर्चा, बोले-यह देश सबका है

नेशनल कांफ्रेंस अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने सोमवार को कहा कि यह देश किसी एक धर्म के लोगों का नहीं बल्कि सबका है लेकिन अगर ऐसा बरकरार नहीं रहता है तो इसके दूरगामी परिणाम होंगे. श्रीनगर लोकसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए नामजदगी का पर्चा दाखिल करते समय पार्टी कार्यकर्ताओं और सहयोगी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने यह बात कही.

भाषा | Updated: Mar 20, 2017, 09:34 PM IST
फारूक अब्दुल्ला ने दाखिल किया पर्चा, बोले-यह देश सबका है

श्रीनगर : नेशनल कांफ्रेंस अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने सोमवार को कहा कि यह देश किसी एक धर्म के लोगों का नहीं बल्कि सबका है लेकिन अगर ऐसा बरकरार नहीं रहता है तो इसके दूरगामी परिणाम होंगे. श्रीनगर लोकसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए नामजदगी का पर्चा दाखिल करते समय पार्टी कार्यकर्ताओं और सहयोगी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने यह बात कही.

अब्दुल्ला ने यहां कहा, ‘यह देश सिर्फ एक धर्म (के लोगों) का नहीं है बल्कि हम सभी का है. जब तक यह देश हम सभी का है तब तक हम इसके साथ हैं. खुदा ना करे ऐसा हो लेकिन अगर यह देश ऐसा नहीं रहा तो अल्लाह ही जानते हैं कि कौन सा तूफान आएगा.’उन्होंने युवाओं से सूबे और देश को बचाने की जिम्मेदारी लेने का आह्वान किया.

'पूरे भारत और पाकिस्तान को बचाना है'

अब्दुल्ला ने कहा, ‘मैं जिन्दा रहूं या ना रहूं लेकिन युवा नेतृत्व को ना सिर्फ जम्मू-कश्मीर को बल्कि पूरे भारत और पाकिस्तान को बचाना है. भारत और पाकिस्तान के बीच अच्छे ताल्लुकात के बिना जम्मू-कश्मीर को नहीं बचाया जा सकता. इसके लिए उनको एकसाथ मिलकर काम करने की जरूरत है.’ अब्दुल्ला ने स्वीकार किया कि ‘चुनाव कठिन होगा’ और इसके लिए उन्होंने कांग्रेस के समर्थन की मांग की. साथ ही उन्होंने अनंतनाग उपचुनाव के लिए नेशनल कांफ्रेंस कार्यकताओं से समर्थन देने का आह्वान किया. सीट साझेदारी के तहत नेशनल कांफ्रेंस श्रीनगर जबकि कांग्रेस अनंतनाग सीट पर चुनाव लड़ रही है.