राहुल गांधी ने किया 9वां सवाल, 'खेती पर गब्बर सिंह की मार, अन्नदाता को किया बेकार'

राहुल गांधी ने सवाल में फसल बीमा से लेकर कर्ज माफी और फसल के दामों का मुद्दा उठाया है. उनका यह प्रधानमंत्री से 9वां सवाल है. 

Shriram Sharma श्रीराम शर्मा | Updated: Dec 7, 2017, 12:19 PM IST
राहुल गांधी ने किया 9वां सवाल, 'खेती पर गब्बर सिंह की मार, अन्नदाता को किया बेकार'
राहुल गांधी सवालों के जरिए केंद्र सरकार पर लगातार हमला कर रहे हैं (फाइल फोटो)

नई दिल्ली : सवालों के वार में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक और सवाल किया. इस बार उन्होंने किसानों की समस्या उठाते हुए राज्य सरकार और केंद्र सरकार को कटघरे में लाने की कोशिश की है. इस सवाल में उन्होंने फसल बीमा से लेकर कर्ज माफी और फसल के दामों का मुद्दा उठाया है. राहुल का यह प्रधानमंत्री से 9वां सवाल है. कांग्रेस उपाध्यक्ष ने ट्वीट करके सवाल पूछा, 'न की कर्ज माफी, न दिया फसल का सही दाम, मिली नहीं फसल बीमा राशि, न हुआ ट्यूबवेल का इंतजाम. खेती पर गब्बर सिंह की मार, छीनी जमीन, अन्नदाता को किया बेकार.' इसी सवाल में राहुल आगे पूछते हैं, 'PM साहब बतायें, खेडुत के साथ क्यों इतना सौतेला व्यवहार?'

यह भी पढ़ें: गुजरात के रण में राहुल गांधी को चुनौती देंगे शहजाद पूनावाला, बनाई यह रणनीति..

बता दें कि इससे पहले राहुल ने 7वें सवाल में मंहगाई का मुद्दा उठाते हुए केंद्र से सवाल पूछा था, लेकिन इस सवाल पर खुद राहुल घिर गए. सवाल में मंहगाई का जो ग्राफ दिया हुआ था, उसमें आंकड़े गलत दिए हुए थे. सोशल मीडिया में खिंचाई होती देख राहुल को गलती का एहसास हुआ और उन्होंने इस ट्वीट को हटाते हुए नए आंकड़ों के साथ फिर से सवाल ट्वीट किया. हालांकि उन्होंने गलती बताने के लिए बीजेपी के लिए शुक्रिया भी किया और कहा कि इनसान हूं और इनसानों से गलती होती रहती है. इस पर भी उन्होंने नरेंद्र मोदी को लपेटने की कोशिश करते हुए कहा कि वह नरेंद्र भाई नहीं हो जो गलतियों को सुधारें नहीं. 

इससे पहले वे अपने सवालों में शिक्षा, बेरोजगारी, उद्योग धंधे आदि की खस्ताहाल पर सवाल उठाए थे. राहुल ने इसके लिए एक अभियान '22 सालों का हिसाब, गुजरात मांगे जवाब' नाम से शुरू किया हुआ है.

Rahul Gandhi
राहुल गांधी ने अपने 9वें सवाल में किसानों की बदहाली का मुद्दा उठाया है

राहुल का आठवां सवाल
8वें सवाल पर उन्होंने कुपोषण का मुद्दा उठाया था. 'उन्होंने ट्वीट किया था, 39% बच्चे कुपोषण से बेजार, हर 1000 में से 33 नवजात मौत के शिकार, चिकित्सा के बढ़ते भाव, डॉक्टरों का घोर अभाव, भुज के मित्र को 99 साल के लिए दिया सरकारी अस्पताल, क्या यही है आपके स्वास्थ्य प्रबंध का कमाल?'

बता दें कि गुजरात में नौ दिसंबर को पहले चरण के लिए मतदान होगा और इसके लिए आज गुरुवार की शाम से चुनाव प्रचार थम जाएगा. गुजरात में कांग्रेस कई चुनौतियों का सामना कर रही है. पार्टी की गुटबाजी से उसे बहुत नुकसान उठाना पड़ रहा है. इसके अलावा राहुल गांधी को महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता शहजाद पूनावाला ने भी चुनौती दी है. पूनावाला ने राहुल को कांग्रेस का अध्यक्ष बनाए जाने पर सवाल उठाए थे. अब वे कांग्रेस में वंशवाद के खिलाफ 8 दिसंबर से राजकोट में एक बड़ा अभियान शुरू करने जा रहे हैं.