जयपुर एयरपोर्ट पर पकड़ा गया तस्करी का 3 किलो सोना

थाई स्माइल विमान कंपनी से आये यात्रियों के पास से पकड़ा गया सोना

जयपुर एयरपोर्ट पर पकड़ा गया तस्करी का 3 किलो सोना
कस्टम विभाग के अधिकारी भी कर रहे पूछताछ

अंकित तिवाड़ी/जयपुर: जयपुर एयरपोर्ट कीमती धातुओं की तस्करी का केंद्र बना हुआ है. वर्ष 2019 का पहला मामला तीन किलो सोना तस्करी का सामने आया है. थाई स्माइल एयरलाइंस कंपनी से जयपुर एयरपोर्ट आए तीन तस्कर डायरेक्टरेट ऑफ रेवेलन्यू इंटेलीजेंस की टीम के हाथ लगे हैं. 

अब कस्टम विभाग के अधिकारियों के साथ मिलकर इस अंतराष्ट्रीय तस्कर गिरोह का भंडाफोड करने की तैयारी में डीआरआई हैं. भारतीय बाजार में इस सोने की कीमत एक करोड़ रुपए है. जयपुर के सांगानेर एयरपोर्ट पर सोने की तस्करी की वारदातें लगातार बढ़ती जा रही है वहीं सोने की तस्करी को रोकने के लिए कस्टम विभाग की तरफ से सघन जांच की जा रही है जिसके दौरान इन कार्रवाइयों को अंजाम भी दिया जा रहा है.

खबर के मुताबिक जयपुर एयरपोर्ट तस्करों की निगाहों में है. उत्तर भारत में तस्करी का सोना सप्लाई करने के लिए जयपुर एयरपोअर् का इस्तेमाल अधिक हो रहा है. खासकर दुबई, बैंकांक, थाइलैँड से आने वाली अंतरार्ष्टीय फ्लाइटस में तस्करी का सोना अधिक भेजा जा रहा है. रविवार को भी थाई स्माइल से आए तीन तस्करों को डीआरआई टीम ने जयपुर एयरपोर्ट पर तीन किलो सोने के साथ पकड़ा. विभाग की इस कार्रवाई से एयरपोर्ट पर हडकंप मच गया. 

सोना तस्करी की वारदातें सामान्य तौर पर कस्टम विभाग की एयरपोर्ट यूनिट करती है. लेकिन इस बार टिप डीआरआई को मिली. तस्करों से अब डीआरआई और कस्टम विभाग के अधिकारी पूछताछ कर रहे है. गौरतलब है कि जयपुर एयरपोर्ट से तस्करी कर लाई जा रहे सोने में तस्कर अलग अलग तरीके अपनाते हैं, ताकि कस्टम विभाग की एयर इंटेलिजेंस विंग की पकड़ में नहीं आए लेकिन लगातार आ रहे मामलों के बाद संदिग्धों पर कस्टम विभाग कड़ाई से नजर रखता है. विभाग ने दिल्ली, चेन्नई, कलकत्ता, बैंगलुरू, अहमदाबाद के साथ जयपुर एयरपोर्ट पर भी तस्करी के लिहाज से विशेष सर्तकता अलर्ट जारी किया हुआ है.