32 सालों से पाक जेल में बंद हैं बाड़मेर के ये 4 लोग, उठी रिहाई की मांग

बाड़मेर जिले के निवासी भागुसिंह और सहीराम सहित चार लोग पिछले करीब 32 वर्षो से पाक के जेल में बंद है.

 32 सालों से पाक जेल में बंद हैं बाड़मेर के ये 4 लोग, उठी रिहाई की मांग
जनता राजस्थान के इन 4 लोगों के रिहाई की मांग कर रही है.

बाड़मेर: भारत और पाकिस्तान के बीच 1996 में सरहद की बाड़ खींचे जाने के बाद अनजाने में सरहद पार चले जाने वालों की रिहाई के लिए लोगों ने अब सड़को पर उतरना शुरू कर दिया है. सीमावर्ती बाड़मेर जिले के निवासी भागुसिंह और सहीराम सहित चार लोग पिछले करीब 32 वर्षो से पाक के जेल में बंद है. जिसको लेकर बाड़मेर रावणा राजपूत समाज के लोगो ने राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृह मंत्री, विदेश मंत्री, मुख्यमंत्री, और सांसद के नाम का ज्ञापन अतिरिक्त जिला कलेक्टर को दिया है.

खबर के मुताबिक इलाके के लोगों ने बाड़मेर जिला मुख्यालय पर पाकिस्तान की जेल में बंद 4 लोगों के लिए जमकर विरोध जताया. बता दें कि भागु सिंह पिछले 32 सालों से भी अधिक समय से पाकिस्तान की जेल में बंद हैं. उनके साथ इलाके के और 3 तीन लोग भी पाकिस्तान में कैद हैं. 

क्षेत्रीय लोगों के मुताबिक भागू सिंह साल 1986 में, जैसलमेर के जमालदीन 1986 में, तहसील चौहटन से टीलाराम 1988 में और सरूपे से साहुरम 1989 में अनजाने में पाकिस्तान चले गए थे. अब उनकी रिहाई के लिए लोगो ने अपने आवाज बुलंद करनी शुरू कर दी है. लोगो के मुताबित इतने साल से वह अमानवीय यातनाएं झेल रहे हैं अब उनकी रिहाई होनी ही चाहिए.
 
गौरतलब है की अभी हाल ही जयपुर निवासी गजानंद शर्मा के पाक से जेल से वतन वापसी हुई थी. जयपुर जिले के सामोद थाना इलाके में गांव महारकलां के 65 वर्षीय निवासी गजानंद शर्मा की भारतीय राष्ट्रीयता के वेरिफिकेशन के संबंध में पाक जेल से दस्तावेज यहां आए थे. जिसके बाद एसपी जयपुर ग्रामीण कार्यालय से दस्तावेज सत्यापन के लिए सामोद थाना पुलिस को भेजे गए. जब पुलिस ने गजानंद के परिजनों को तलाश कर उनसे संपर्क किया और गजानंद के पाक जेल में होने की जानकारी दी जिसके बाद पूरा परिवार सदमे में आ गया था. 

BJP प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना ने विदेश मंत्री को गजानंद की रिहाई के लिए पत्र लिखा था. परिवार ने राजस्थान के राज्यपाल से भी इस संबंध में गुहार लगाई थी.जिसके बाद विदेश मंत्रालय ने भी इस मामले में दखल दिया और गजानंद की रिहाई हो गई. इस मामले के बाद अब जनता राजस्थान के इन 4 लोगों के रिहाई की मांग कर रही है. 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close