'हनीट्रैप' में फंसा था जैसलमेर में तैनात सेना का जवान, ISI को दे रहा था सूचना

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के चंगुल में फंसा सोमवीरसिंह लंबे समय से भारतीय सेना की गतिविधियों की जानकारी पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी से साझा कर रहा था. 

'हनीट्रैप' में फंसा था जैसलमेर में तैनात सेना का जवान, ISI को दे रहा था सूचना
पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI के हनीट्रैप का शिकार भारतीय सेना के एक और जवान को गिरफ्तार किया गया है.

मनीष रामदेव, जैसलमेर: भारतीय सेना की इंटेलिजेंस टीम ने राजस्थान के जैसलमेर आर्मी कैंट में तैनात भारतीय सेना के एक जवान को पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी को जानकारी देने के आरोप में शनिवार को गिरफ्तार किया है. 

बताया जा रहा है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के चंगुल में फंसा सोमवीरसिंह लंबे समय से भारतीय सेना की गतिविधियों की जानकारी पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी से साझा कर रहा था. भारतीय सेना का यह जवान की फेसबुक के माध्यम से हनीट्रैप का शिकार हुआ है. लेकिन अब तक गिरफ्तारी की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है. 

सूत्रों का कहना है कि जैसलमेर आर्मी कैंट में सोमवीरसिंह हरियाणा के रोहतक का निवासी है. कुछ महिनों से अनिका चोपडा नाम की फेसबुक फ्रेंड से संपर्क में आने के बाद वो भारतीय सेना की गतिविधियों को ISI से साझा कर रहा था. जिसके बाद भारतीय सेना ने संदेह के आधार पर उसे हिरासत में लिया है. लेकिन आर्मी ने अबतक इंटेलिजेंस को इस जवान को नहीं सौंपा है. जिसके लिए आर्मी हैड क्वाटर से अनुमति का इंतजार किया जा रहा है. 

आपको बता दें कि, पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी की एक लड़की ने अनिका चौपड़ा के नाम से फेसबुक पर दोस्त करके भारतीय सेना के इस जवान से कई खुफिया जानकारी हासिल कर ली थी. इसके अलावा सोमवीरसिंह को जम्मू के कई नंबरों से फोन भी आते थे. 

जैसलमेर से पहले यह जवान महाराष्ट्र के अहमदनगर में तैनात था, वहीं यह मामला सुरक्षा एजेंसियों की नजर में आया था, तब से इस पर नजर रखी जा रही थी. सूत्रों के अनुसार इस जवान ने लड़की से वीडियो चैट भी की थी. इस दौरान भारतीय सेना की कई गोपनीय सूचनाएं व फोटोग्राफ्स भी ISI को दिया था. 

क्या होता है हनी ट्रैप

जानकारों का कहना है कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी भारतीय सेना के जवानों को भ्रमित कर जासूसी करवा रहा है. इसके अलावा हनीट्रैप के माध्यम से इन युवाओं के जरिए छावनी इलाके की फोटो, टैंकर नंबर, बिल्डिंग की फोटो मंगवा रहा है. इस पहले भी देश के विभिन्न हिस्सों से ऐसी खबरें आई थी.

 आपको बता दें कि, दुश्मन देश पाकिस्तान भारत से खुफिया जानकारी जुटाने के लिए कई तरह के हथकंडे अपनाता है. जिसमें हनी ट्रैप के जरिए भी यह काम हो रहा है. इस दौरान कोई भी महिला या लड़की दूसरे देश के जवान से सोशल साइट पर दोस्ती करती है और उसके बाद शुरू होता है ब्लैकमेल करने या फिर जानकारी जुटाने का खेल. पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ने भारत के खिलाफ हाल ही में इसी हथियार इस्तेमाल कर भारतीय सेना के कई जवानों से खुफिया सूचना हासिल कर चुका है.