'भारत माता की जय' को लेकर बीजेपी-कांग्रेस में ठनी, PM मोदी-राहुल गांधी आमने-सामने

राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी अपने भाषणों में भारत माता की बात तो करते हैं, लेकिन वह काम उद्योगपतियों के लिए करते हैं. 

'भारत माता की जय' को लेकर बीजेपी-कांग्रेस में ठनी, PM मोदी-राहुल गांधी आमने-सामने
राहुल ने कहा, 'मैं छह महीने से राफेल के बारे में भी बोल रहा हूं, उस पर क्यों नहीं बोलते'.

जयपुर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को 'भारत माता की जय' के मुद्दे पर मंगलवार को एक-दूसरे पर निशाना साधा. राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी अपने भाषणों में भारत माता की बात तो करते हैं, लेकिन वह काम अनिल अंबानी के लिए करते हैं. 

वहीं इसके कुछ देर बाद ही मोदी ने उन पर पलटवार किया. मोदी ने अपनी एक सभा में उपस्थित जनसमूह से 'भारत माता की जय' का नारा दस बार लगवाते हुए कहा, 'मैंने नामदार के फतवे को चूर-चूर कर दिया'. इस पर चुटकी लेते हुए राहुल ने कहा, 'मैं छह महीने से राफेल के बारे में भी बोल रहा हूं, उस पर क्यों नहीं बोलते'. 

राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए रण में उतरे राहुल ने सुबह मालाखेड़ा (अलवर) में अपनी एक सभा में कहा, 'हर भाषण में मोदी कहते हैं 'भारत माता की जय' और काम करते हैं अनिल अंबानी के लिए. उन्हें अपने भाषण की शुरुआत करनी चाहिए अनिल अंबानी की जय...मेहुल चोकसी की जय.. नीरव मोदी की जय....ललित मोदी की जय से'.

इस चुनाव में 'भारत माता की जय' के मुद्दे को लेकर कांग्रेस सत्तारूढ़ भाजपा के निशाने पर है. पार्टी अध्यक्ष अमित शाह सहित उसके नेता लगातार आरोप लगाते रहे हैं कि कांग्रेस को 'भारत माता की जय' कहने में भी 'शर्म' आती है. इसकी शुरुआत बीकानेर की उस कथित घटना से हुई जब कांग्रेस के एक प्रत्याशी ने 'भारत माता की जय' के नारे बीच में रुकवाकर सोनिया गांधी के नारे लगवाए. इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था.

इस मुद्दे पर पहली बार आक्रामक दिख रहे राहुल गांधी ने सवाल किया कि भारत माता की बात करने वाले मोदी किसानों को कैसे भूल गए? भारत माता में तो इस देश के किसान, मजदूर, छोटे दुकानदार सब आते हैं. राहुल गांधी ने बुहाना (झुंझुनू) और सलूंबर में भी यह बात कही. 

इसके कुछ ही मिनट बाद सीकर में अपनी चुनावी सभा में मोदी ने लोगों से दस बार 'भारत माता की जय' के नारे लगवाए. उन्होंने राहुल पर निशाना साधते हुए कहा कि चुनाव में अपनी पराजय को देखकर कांग्रेस के नामदार भारत माता का अपमान करने पर तुले हैं. मोदी अपनी सभाओं में राहुल के लिए 'नामदार' और खुद के लिए 'कामदार' शब्द का इस्तेमाल करते हैं.

उन्होंने कहा, 'कांग्रेस के एक नामदार हैं. उस नामदार ने आज फतवा निकाला है कि मोदी को चुनावी सभाओं की शुरुआत भारत माता की जय से नहीं करनी चाहिए. इसलिए मैंने आज इन लाखों लोगों की मौजूदगी में कांग्रेस के नामदार के फतवे को चूर-चूर कर दस बार भारत माता की जय बुलवाई.' मोदी ने कहा, 'भारत माता की जय बोलकर मेरे देश के जवान दुश्मनों के छक्के छुड़ा देते हैं. भारत माता की जय बोलकर मेरे देश के जवान सर्जिकल स्ट्राइक से दुश्मनों के दांत खट्टे कर हिन्दुस्तान की धरती पर लौट आते हैं. क्या चुनाव में पराजय देखते हैं, इसलिए आप भारत माता का अपमान करने पर तुले हैं'.

उन्होंने कहा, 'कांग्रेस के नामदार को कहना चाहता हूं... आप जिम्मेदार पार्टी के अध्यक्ष हैं और अध्यक्ष के नाते आपके मुंह से भारत माता की जय का विरोध शोभा नहीं देता है. आपकी ये बातें सवा सौ साल की कांग्रेस के इतिहास के लिए कलंक बन रही हैं'. 

इसके बाद शाम में राहुल ने सलूंबर (उदयपुर) में मोदी के बयान पर चुटकी लेते हुए कहा, 'मेरे भाषण के दो घंटे बाद नरेंद्र मोदी मेरे भाषण पर टिप्पणी करते हैं. मैं छह महीने से अपने हर भाषण में राफेल के बारे में बोल रहा हूं कि प्रधानमंत्री ने अनिल अंबानी को 30,000 करोड़ रुपये चोरी करके दिए. लेकिन इस पर मोदी ने कभी टिप्पणी नहीं की'. राहुल ने कहा, 'नरेंद्र मोदी को भारत की जय कहनी है तो किसान की, मजदूर की, माताओं-बहनों की आवाज सुननी ही पड़ेगी. यह सच्चाई है'.

(इनपुट-भाषा)

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close