राजस्थान की सत्ता पर अमीरों का राज, 583 उम्मीदवार और 141 विधायक करोड़पति

खबर के मुताबिक राजस्थान में 2294 प्रत्याक्षियों में से 583 उम्मीदवार करोड़पति है. इसके अलावा राजस्थान के मौजूदा 197 विधायकों में से 141 विधायक करोड़पति है.

राजस्थान की सत्ता पर अमीरों का राज, 583 उम्मीदवार और 141 विधायक करोड़पति
वहीं जमीदारा पार्टी की प्रत्याशी कामिनी जिंदल सबसे अमीर उम्मीदवार है.

आशीष चौहान/जयपुर: राजस्थान की सियासत पर करोड़पति नेताओं का सत्ता पर राज है. प्रदेश में गरीबी दूर करने वाले नेताओं के बड़े ही दिलचस्प आंकड़े सामने आए हैं. प्रदेश में इस बार के विधानसभा चुनाव में 2294 प्रत्याशी 200 सीटों के लिए मैदान में उतर चुके है. राजस्थान से गरीबी मिटाने और विकास का वादा करने वाले नेताओं की संपत्तियों को लेकर बड़े ही हैरान करने वाले आंकड़े सामने आए है.

खबर के मुताबिक, राजस्थान में 2294 प्रत्याशियों में से 583 उम्मीदवार करोड़पति है. इसके अलावा राजस्थान के मौजूदा 197 विधायकों में से 141 विधायक करोड़पति हैं, जबकि 2008 में महज 90 विधायक ही करोड़पति थे. वहीं राजस्थान के चुनावी मैदान में उतरे 583 उम्मीदवार करोड़पति में इस बार भी जमीदारा पार्टी की प्रत्याक्षी कामिनी जिंदल सबसे अमीर उम्मीदवार हैं. 

कामिनी ने दिए गए संपत्ति के ब्यौरे में अपनी संपत्ति 278 करोड़ रूपए बताई है. जबकि दूसरे नंबर सीकर के धोद विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार परसराम मोरदिया की संपत्ति 171 करोड़ रूपए है. वहीं नीमकाथाना के बीजेपी के प्रत्याशी प्रेमसिंह बाजोर की संपत्ति 142 करोड़ रूपए है. चौथे नंबर पर आते है निर्दलीय प्रत्याशी जो 128 करोड़ रूपए के मालिक हैं. पिछले दो साल के कार्यकाल में करोड़पति विधायकों की बात करें तो 2008 में ये 46 प्रतिशत था जो 2013 में बढ़कर 72 प्रतिशत हो गई. वर्ष 2008 में विधायकों की औसत संपत्ति 2 करोड़ 8 लाख 56474 रुपए थी, जो वर्ष 2013 में बढ़कर 5 करोड़ 81 लाख 44654 रुपए पहुंच गई. 

2008 में दिए गए संपत्तियों के ब्यौरे के मुताबिक टॉप 5 करोड़पति विधायक में भी सबसे उपर कामिनी जिंदल थी. गंगानगर से जमीदारा पार्टी की विधायक कामिनी की संपत्ति 192 करोड़ थी. दूसरे नंबर पर डीग कुम्हेर से कांग्रेस के विधायक 118 करोड़, तीसरे नंबर पर नीमकाथाना से प्रेम सिंह की 87 करोड़ की संपत्ति थी.बीकानेर वेस्ट से बीजेपी के विधायक गोपालकृष्ण और कोटपुतली से कांग्रेस विधायक राजेंद्र यादव की 27-27 करोड़ रूपए थी.

जहां जमीदार पार्टी की विधायक कामिनी जिंदल सबसे अमीर विधायक है, वहीं उसी पार्टी की विधायक सोना देवी राजस्थान की सबसे गरीब विधायक थी. उनकी संपत्ति महज 61357 रुपए है. हालांकि अब वे कांग्रेस में शामिल हो गई हैं. कम संपत्ति के मामले में दूसरे नबंर पर जहाजपुर से कांग्रेस विधायक धीरज गुर्जर है, उनकी संपत्ति भी महज 2 लाख रूपए है. इसके अलावा अनूपगढ से बीजेपी के विधायक शिमला बावरी की संपत्ति 9 लाख है.

मौजूदा विधायकों में सबसे ज्यादा बीजेपी के विधायक करोड़ पति है. 157 में से बीजेपी के 115 विधायक करोड़ पति है यानि बीजेपी के 73 फीसदी विधायक करोड़ पति की सूची में शामिल है. इसके अलावा कांग्रेस के 25 विधायकों में से 16 विधायक करोड़ पति है. जबकि 7 निर्दलीय विधायकों में से 4 विधायक करोड़पति है. नेशनल पीपल पार्टी के चार में से चारों विधायक करोड़़पति है. जबकि जमीदारा पार्टी 2 में इललौती विधायक कामिनी जिंदल के पास करोड़ की संपत्ति है. वहीं बसपा के 2 विधायकों में से 1 विधायक करोड़ पति है. 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close