जाने माने आर्थिक विशेषज्ञ प्रोफेसर विजय शंकर व्यास का 87 की उम्र में हुआ निधन

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रो. व्यास के निधन पर दुःख प्रकट करते हुए उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है.

जाने माने आर्थिक विशेषज्ञ प्रोफेसर विजय शंकर व्यास का 87 की उम्र में हुआ निधन

जयपुर: जाने माने आर्थिक विशेषज्ञ प्रो. विजय शंकर व्यास का बुधवार सुबह जयपुर में निधन हो गया. उन्हें पद्मभूषण से सम्मानित किया गया था. वह 87 वर्ष के थे और कुछ दिन से बीमार चल रहे थे. उनके परिवार में पत्नी और दो पुत्र है. पारिवारिक सूत्रों के अनुसार प्रो. व्यास का अंतिम संस्कार शाम पांच बजे लालकोठी स्थित शमशान गृह में किया जाएगा.

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रो. व्यास के निधन पर दुःख प्रकट करते हुए उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है.

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने ट्वीट के जरिए अपनी संवेदना संदेश में प्रो. व्यास के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि जाने माने कृषि, आर्थिक विशेषज्ञ व्यास ने अपने काम से दुनिया भर में अपनी पहचान बनाई थी. उनके निधन से राजस्थान ने विशेषतौर पर बीकानेर ने जाने माने प्रेरणास्त्रोत को खो दिया है. 

पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि जाने-माने अर्थशास्त्री प्रो. व्यास ने देश और प्रदेश की आर्थिक एवं कल्याणकारी नीतियों के निर्धारण में विशेष योगदान दिया, जो सदैव याद किया जायेगा. 

उन्होंने कहा कि उनके मुख्यमंत्री काल में प्रो. व्यास राज्य आयोजना बोर्ड में उपाध्यक्ष रहे. प्रो. व्यास के साथ उनके आत्मीय संबंध थे और प्रदेश की अर्थव्यवस्था और विकास की दृष्टि से कई बार उनसे विचार-विमर्श भी होता था. वे प्रतिभाशाली, मृदुभाषी और मिलनसार व्यक्तित्व के धनी थे.

(इनपुट भाषा से भी)