राजस्थान: दीयों और मिठाइयों के बीच बच्चों ने LED BALLONS के साथ दिया ग्रीन दिवाली का संदेश

आसमान में उड़ते हजारों एलईडी बैलून्स खास है. हर बैलून में दिवाली की रोशनी जगमग होती दिख रही है. हाथ में थामे बैलून्स को लेकर बच्चों में उत्सुकता और दिवाली की चमक साफ तौर पर दिखाई दे रही है

राजस्थान: दीयों और मिठाइयों के बीच बच्चों ने LED BALLONS के साथ दिया ग्रीन दिवाली का संदेश

जयपुर/ दीपक गोयल: दिवाली की रोशनी के बीच जगमगाते जयपुर में कच्ची बस्तियों के बच्चों ने ग्रीन दिवाली मनाने का संदेश दिया. हम और आप तो हर साल यही सोच कर रह जाते हैं की इस बार ग्रीन दिवाली मनाई जाएगी लेकिन फिर भी आसमान में हम आतिशबाजी कर प्रदूषण फैलाते हैं. लेकिन जो आप और हम नहीं कर पाए सैंकडों बच्चों ने कर दिखाया. हाथ में एलईडी बैलून थामकर आसमान को रोशन कर बच्चों ने जेएलएन मार्ग स्थित वर्ल्ड ट्रेड पार्क पर ग्रीन दिवाली सेलिब्रेट की.

रंग-बिरंगे दीये, मिठाइयां और पटाखे, इनके बिना दिवाली अधूरी है और कुछ तुम भूल भी जाओ, मगर पटाखे तो चाहिए ही. पर क्या मालूम है कि पटाखों के जहरीले धुएं से पर्यावरण को कितना नुकसान होता है? खुद की सेहत पर भी इसका असर होता है. सब को मालूम है लेकिन इसके बावजूद भी आप और हम हर बार दिवाली पर पटाखे जरूर चलाते हैं.

जयपुर में एक जगमग दिवाली देखने को मिली जो पहले कभी नहीं देखी गई. ये दिवाली है उन बच्चों की जिन्हे दिवाली का मतलब तक नहीं पता था लेकिन सोमवार को उनके चेहरे की मुस्कान देखकर जयपुर भी मुस्करा रहा था. ग्रीन दिवाली की बात तो आप और हम हर साल करते ही हैं लेकिन इस बार आसमान में सतरंगी पटाखों की जगह एलईडी बैलून्स दिखाई दिए. इको फ्रैंडली दिवाली मनाकर जयपुर और देश को जगाने का काम किया उन छोटे छोटे मासूम बच्चों ने जो दिवाली की चकाचौंद से बहुत दूर थे.

आसमान में उड़ते हजारों एलईडी बैलून्स खास है. हर बैलून में दिवाली की रोशनी जगमग होती दिख रही है. हाथ में थामे बैलून्स को लेकर बच्चों में उत्सुकता और दिवाली की चमक साफ तौर पर दिखाई दे रही है. लेकिन ये चमक दिवाली की धूम धड़ाम जैसे पटाखों से बिल्कुल अलग है. क्योंकि ये दिवाली है इको फ्रैंडली ग्रीन दिवाली.

अश्मिता बताती है कि मासूम बच्चों को इस बात का अंदाजा नही है की दिवाली की आतिशबाजी से फिजाओं की हवा में कितना जहर फैल रहा है लेकिन उन्हे ये बात अच्छी तरह पता है की इको फ्रैंडली दिवाली मनाने से कुछ ना कुछ फायदा हमें और हमारे परिवार को होगा इसलिए एंज्योमेंट के साथ कच्ची बस्तियों के बच्चे आज जगमगाती रोशनी के बीच पहुंचे और उन्होने पूरे जयपुर को ये बता दिया की इको फ्रैंडली दिवाली मनाने के कितने फायदे होते हैं.