राजस्थान: शिक्षकों से तंग आकर छात्राओं ने उठाया बड़ा कदम, स्कूल पर जड़ा ताला

विद्यार्थियों द्वारा प्रदर्शन करने की सूचना पर ब्लॉक शिक्षा अधिकारी रामनिवास घोटिया मौके पर पहुंचे और छात्राओं की समस्या सुन स्कूल का ताला खोलने की समझाइश की लेकिन विद्यार्थी अपनी समस्या का हल चाहते हैं.

राजस्थान: शिक्षकों से तंग आकर छात्राओं ने उठाया बड़ा कदम, स्कूल पर जड़ा ताला
प्रतीकात्मक तस्वीर

सुजानगढ़: राजस्थान के सुजानगढ़ में भोजलाई रोड पर स्थित राजकीय उत्कृष्ट उच्च प्राथमिक विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने शुक्रवार को स्कूल की शिक्षिकाओं द्वारा अभद्र व्यवहार करने से खफा होकर स्कूल पर ताला जड़ दिया. छात्राओं ने स्कूल के बाहर नारेबाजी कर मौके पर प्रदर्शन किया और स्कूल से उषा, संगीता शिक्षका को हटाने की मांग की. 

विद्यार्थियों द्वारा प्रदर्शन करने की सूचना पर ब्लॉक शिक्षा अधिकारी रामनिवास घोटिया मौके पर पहुंचे और छात्राओं की समस्या सुन स्कूल का ताला खोलने की समझाइश की लेकिन विद्यार्थी अपनी समस्या का हल चाहते हैं. इस वजह से उन्होंने तुरन्त दोनों शिक्षिकाओं को हटाने की मांग की और अपनी मांग पर अड़ गए. छात्राओं की शिकायत पर दोनों अध्यापिकाओं को बीईईओ रामनिवास घोटिया ने अस्थाई तौर पर हटाकर शिकायत की जांच करने का आश्वाशन दिया. 

जिसके बाद छात्राओं ने स्कूल का ताला खोल दिया. तालाबन्दी के दौरान दिलचस्प बात यह रही की छात्राओं ने मौके पर पहुंचे बीईईओ रामनिवास घोटिया से यह पूछा की राजस्थान की वस्त्र नगरी कौनसी है जिस पर बीईईओ ने जवाब देते हुए कहा कि "मन कोणी ठा". बीईईओ ने इस मामले में कहा कि मैं साइंस का छात्र रहा हूं, जरुरी नही है कि हर प्रश्न का जवाब पता हो. वंही छात्राओं का आरोप है कि शिक्षिकाओं से जब यह प्रश्न पूछा गया तो उन्होंने कक्षा में उन्हें गलत उत्तर देते हुए जयपुर बताया जबकि हकीकत में वस्त्र नगरी भीलवाड़ा है. विद्यार्थियों का आरोप है कि स्कूल के अध्यापक उन्हें सही ठंग से नही पढ़ाते हैं और उनके साथ सही तरीके से बात नहीं करते हैं. 

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close