राजस्थान: पायलट ने कहा- अशोक गहलोत और मेरे बीच सब ठीक, टिकटों पर भी नहीं है मतभेद

अशोक गहलोत सहित बड़े नेताओं के चुनाव लड़ने के सवाल पर सचिन पायलट ने कहा इसका निर्णय राहुल गांधी को करना है किसको कहां से चुनाव लड़ना है यह भी राहुल गांधी तय करेंगे. 

राजस्थान: पायलट ने कहा- अशोक गहलोत और मेरे बीच सब ठीक, टिकटों पर भी नहीं है मतभेद

जयपुर: दीपावली के अवसर पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट के आवास पर स्नेह मिलन समारोह का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में मीडिया कर्मियों के अलावा पार्टी के चुनिंदा नेता भी मौजूद रहे. इस अवसर पर मीडिया से बातचीत करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने कांग्रेस के भीतर सहकर्मियों को हटाने की चल रही खबरों का खंडन किया है. पीसीसी चीफ ने कहा कि चारों से प्रभारियों ने विधानसभा चुनाव के मद्देनजर प्रत्याशियों के चयन में कड़ी मेहनत की है. जिस तरह की खबरें मीडिया में आ रही है वो निराधार है. 

खुद के और अशोक गहलोत सहित बड़े नेताओं के चुनाव लड़ने के सवाल पर सचिन पायलट ने कहा इसका निर्णय राहुल गांधी को करना है किसको कहां से चुनाव लड़ना है यह भी राहुल गांधी तय करेंगे. सचिन पायलट ने कहा, कांग्रेस में पहली बार ऐसा होगा जब टिकट वितरण सभी बड़े नेताओं की सर्वसम्मति से होगा. दिवाली के बाद दिल्ली में स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक होगी उसमें सूची तैयार कर राहुल गांधी को भेजी जाएगी और वह सूची दिवाली के बाद जारी होगी. 

सचिन पायलट ने राहुल गांधी के राजस्थान दौरे को लेकर भी जानकारी दी. पायलट ने कहा, राहुल गांधी नवंबर के तीसरे सप्ताह में राजस्थान आ रहे हैं. उनका एक या दो दिनों का कार्यक्रम बनेगा. कांग्रेस घोषणा पत्र को लेकर भी काम कर रही है. 15 नवंबर के बाद घोषणा पत्र जारी कर दिया जाएगा. राम मंदिर के मामले में कांग्रेस के स्टैंड पर सचिन पायलट ने कहा, यह मामला न्यायालय में विचाराधीन है लेकिन चुनाव से पहले जिस तरीके से मंदिर मस्जिद के मुद्दे को भाजपा की तरफ से उठाया जा रहा है उससे बिल्कुल साफ हो जाता है कि जनता का असल मुद्दों से ध्यान भटकाने की कोशिश है. 

पायलट ने सभी प्रदेशवासियों को दीपावली की शुभकामनाएं देते हुए कहा इस बार राजस्थान में दो दिवाली मनने जा रही है एक दिवाली 7 नवंबर को और दूसरी दिवाली 7 दिसंबर को. 7 दिसंबर की दीपावली भाजपा की विदाई वाली दीपावली होगी. सचिन पायलट के आवास पर आयोजित स्नेह मिलन समारोह में कमेटी के चेयरमैन रघु शर्मा, जयपुर कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रताप सिंह, खाचरियावास अर्चना शर्मा, सुरेश चौधरी, महासचिव महेश शर्मा और अन्य नेता कार्यकर्ता मौजूद रहे. 

कैंपेनिंग कमेटी के चेयरमैन रघु शर्मा ने साफ किया कि इस बार जनता भाजपा के झांसे में नहीं आने वाली है. धर्म के नाम पर इस बार चुनाव नहीं लड़ा जाएगा. इस बार का चुनाव विकास के मुद्दों पर होगा और कांग्रेस को लेकर जनता पूरी तरह से मन बना चुकी है कांग्रेस भारी बहुमत से सरकार बनाने जा रही है.