मोदी सरकार में SC/ST, अल्पसंख्यकों के अधिकार पूरी तरह से सुरक्षित: मुख्तार अब्बास नकवी

नकवी ने दावा किया कि सरकार ने पिछले चार वर्षों के अपने कार्यकाल के दौरान समाज के कमजोर वर्गों के सामाजिक - आर्थिक - शैक्षणिक विकास के लिए ‘‘ रिकार्ड काम ’’ किया है. 

मोदी सरकार में SC/ST, अल्पसंख्यकों के अधिकार पूरी तरह से सुरक्षित: मुख्तार अब्बास नकवी
केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (फाइल फोटो)

रामपुर: केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज कहा कि मोदी सरकार में अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति और अल्पसंख्यकों के अधिकार ‘‘ पूरी तरह से सुरक्षित ’’ हैं. अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री नकवी ने कहा कि यह एक जंग है जो राष्ट्र की प्रगति के लिए प्रतिबद्धता के साथ काम करने वालों और ‘‘ सामंती मानसिकता ’’ वाले लोगों के बीच है. उन्होंने कहा कि इस तरह की मानसिकता को मोदी सरकार पराजित करेंगी. 

उनके कार्यालय से जारी एक बयान के अनुसार नकवी ने कहा ,‘‘ मोदी सरकार के कार्यकाल में पिछड़ों , एससी / एसीटी , अल्पसंख्यकों और अन्य कमजोर वर्गों के अधिकार पूरी तरह से सुरक्षित है. ’’ विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधते हुए मंत्री ने कहा कि सत्ता से बाहर लोग ‘‘ आधी रात की एक राजनीतिक साजिश ’’ और ‘‘ भ्रष्टाचार की विरासत ’’ के साथ विकास के एजेंडे के खिलाफ है. उन्होंने कहा कि सरकार इस तरह के लोगों को सफल नहीं होने देगी. 

बयान में हालांकि उनके ‘‘ आधी रात की राजनीतिक साजिश ’’ बयान के बारे में विस्तृत रूप से नहीं बताया गया है. कठुआ और उन्नाव की बलात्कार घटनाओं के खिलाफ राष्ट्रीय राजधानी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में आधी रात को एक मार्च निकाला गया था. इस मार्च के कुछ दिनों बाद यह बयान आया है. 

नकवी ने रामपुर जिला पंचायत के कई विकास कार्यों का उद्घाटन करते हुए यह बयान दिया. नकवी ने दावा किया कि सरकार ने पिछले चार वर्षों के अपने कार्यकाल के दौरान समाज के कमजोर वर्गों के सामाजिक - आर्थिक - शैक्षणिक विकास के लिए ‘‘ रिकार्ड काम ’’ किया है. 

उन्होंने कहा ,‘‘ देश के संविधान में एससी / एसटी और अल्पसंख्यकों को दी गई सुरक्षा और अधिकारों को किसी भी प्रकार से कमजोर नहीं होने दिया जायेगा. सरकार ने पिछड़े वर्गों के सशक्तिकरण के लिए संवैधानिक सुरक्षा प्रदान करने के वास्ते कदम उठाए हैं. ’’ उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस और उसकी सहयोगी पार्टियां ऐसे समय ‘‘ सामंती मानसिकता ’’ के साथ काम कर रही है , जब प्रधानमंत्री समावेशी विकास के लिए प्रतिबद्ध है. 

मंत्री ने कहा ,‘‘ सरकार किसी भी विघटनकारी , विभाजनकारी , अलोकतांत्रिक और विकास - विरोधी राजनीति को समावेशी विकास के लिए हमारी प्रतिबद्धता पर हावी नहीं होने देगी. ’’ नकवी ने आरोप लगाया कि विपक्षी पार्टियां देश की चौतरफा तरक्की को पचा नहीं पा रही है. बिना किसी पार्टी या व्यक्ति का नाम लिये बगैर उन्होंने कहा कि कुछ लोग धर्म , जाति , संप्रदाय और भाषा के नाम पर देश में दरार पैदा करना चाहते है. 

(इनपुट - भाषा)