नांदेड़ में कांग्रेस जीती, शिवसेना ने कहा- बीजेपी को हराया जा सकता है

राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा आज घोषित अंतिम नतीजों के अनुसार, शिवसेना को केवल एक सीट मिली और एक सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार ने जीत दर्ज की.

भाषा | Updated: Oct 13, 2017, 02:26 PM IST
नांदेड़ में कांग्रेस जीती, शिवसेना ने कहा- बीजेपी को हराया जा सकता है
फाइल फोटो

मुंबई:  नांदेड़ नगर निगम चुनाव में अपनी हार से अविचलित शिवसेना ने शुक्रवार को भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि इन नतीजों ने एक संदेश दिया है कि भगवा पार्टी को हराया जा सकता है. कांग्रेस ने नांदेड़-वाघाला नगर निगम चुनाव में 81 में से 73 सीटें जीती. पार्टी की महाराष्ट्र इकाई के प्रमुख अशोक चव्हाण के गृह नगर नांदेड़ में कांग्रेस ने सत्ता पर कब्जा जमाने के भाजपा के प्रयासों को झटका देते हुए उसे मात्र छह सीटों पर समेट दिया. राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा आज घोषित अंतिम नतीजों के अनुसार, शिवसेना को केवल एक सीट मिली और एक सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार ने जीत दर्ज की.

शिवसेना ने पार्टी के मुखपत्र 'सामना' में एक संपादकीय में कहा, ''शिवसेना को दो मोर्चों पर लड़ना पड़ा. एक ओर अशोक चव्हाण की कांग्रेस से और दूसरी तरफ भाजपा से, जिसने चुनाव जीतने के लिए सभी हरसंभव तरीके का इस्तेमाल किया.'' इसमें कहा गया है कि शिवसेना जाति की राजनीति करने में विश्वास नहीं करती. शिवसेना ने कहा कि भाजपा ने इस चुनाव को प्रतिष्ठा का मुद्दा बना लिया था और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस तथा उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों ने चुनाव प्रचार अभियान में भाग लिया था. लेकिन उनका उसी तरह सफाया हुआ जिस तरह दिल्ली में आप ने भाजपा का सफाया किया था.

यह भी पढ़ें: जानें नांदेड़ निकाय चुनाव के नतीजे

केंद्र में राजग के सहयोगी दल ने कहा, ''चुनाव परिणाम हमारे मित्र के लिए शायद स्तब्ध करने वाले हों जिसने कांग्रेस मुक्त भारत का सपना देखा है. इस चुनाव के जरिए भारत के लिए संदेश स्पष्ट है कि भाजपा को हराया जा सकता है.'' उसने कहा कि इस चुनाव से सबसे बड़ा सबक यह मिलता है कि धन, बल और खरीद-फरोख्त की राजनीति हमेशा काम नहीं आती और इसलिए कांग्रेस प्रमुख अशोक चव्हाण भाजपा का विजय रथ रोकने में कामयाब रहे. राकांपा और एआईएमआईएम इस बार चुनाव में अपना खाता भी नहीं खोल पाए. पिछली बार उनके क्रमश: 10 और 11 पार्षद थे.