समलैंगिक संबंधों का गड़बड़झाला: धोखा मिलता देख युवक ने खोया आपा, चली गई 'तीसरे' की जान

मुंबई के एक समलैंगिक युवक ने अपने साथी के दोस्त को मौत के घाट उतार दिया 

समलैंगिक संबंधों का गड़बड़झाला: धोखा मिलता देख युवक ने खोया आपा, चली गई 'तीसरे' की जान
आदमी गुस्से में किस कदर क्रूर हो जाता है उसकी एक बानगी मुंबई के बांद्रा इलाके में देखने को मिली

सचिन गाड, मुंबई: रिश्तों में जब धोखा नजर आता है आदमी गुस्से में किस कदर क्रूर हो जाता है उसकी एक बानगी मुंबई के बांद्रा इलाके में देखने को मिली. आपको बता दें कि मुंबई में एक युवक की मौत हो गई थी. पुलिस ने जब इस मामले की तफ्तीश की तो कहानी कुछ और ही निकली. बताया जा रहा है कि मुंबई के एक समलैंगिक युवक ने अपने साथी के दोस्त को मौत के घाट उतार दिया है. वजह यह थी कि आरोपी ने दोनों को एक साथ एक कमरे में देख लिया था. जिसके बाद उसने आपा खो दिया और हाथापाई में मृतक के सिर में गहरी चोट लग गई.

अपने पार्टनर को देख लिया था दूसरे के साथ
मुंबई के बांद्रा इलाके में हुई इस वारदात में धवल उनाडकट (उम्र 25 वर्ष) ने पार्थ रावल (उम्र 26 वर्ष) की हत्या कर दी. जानकारी के मुताबिक धवल उनाडकट ने उसके दोस्त मोहम्मद आसिफ (उम्र 25 वर्ष) को पार्थ रावल के साथ एक कमरे देख लिया था जिसके बाद वह गुस्से में आगबबूला हो गया था. आसिफ और धवल में उसी वक्त इस बात को लेकर झगड़ा भी हुआ. झगड़ा सुलझाने दोनों के बीच आए पार्थ पर धवल ने मोमबत्ती स्टैंड से हमला कर दिया था. जिस वजह से पार्थ बुरी तरह घायल हो गया था और उसके सिर से खून बहने लगा था.

कोर्ट ने पुलिस हिरासत में भेजा
जिसके बाद दोनों पार्थ को अस्पताल लेकर गए. पार्थ का सिर फट गय था. लेकिन इलाज के वक्त टांके लगवाने से पार्थ ने इनकार कर दिया. जिसके बाद उसके घाव पर दवा लगाकर उसे वापस घर ले आया गया. लेकिन बेहोशी की हालात में उसकी मौत हो गई. जिसके बाद मुंबई की बांद्रा पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर धवल उनाडकट को गिरफ्तार कर अदालत में पेश कर दिया. जिसके बाद कोर्ट ने धवल को शुक्रवार तक पुलिस हिरासत का आदेश सुना दिया है.

कंप्यूटर इंजीनियर था मरने वाला युवक
बताया जा रहा है कि मुंबई के बांद्रा इलाके में रहने वाले धवल उनाडकट, पार्थ रावल और मोहम्मद आसिफ में समलैंगिक संबंध थे. आरोपी धवल उनाडकट कंप्यूटर इंजीनियर था जो परिवार का बिजनेस देखता था. पीड़ित पार्थ रावल भी कंप्यूटर इंजीनियर था. तो वहीं धवल का दोस्त आसिफ गारमेंट के बिजनेस में था. 

मेडिकल टेस्ट को लेकर दोनों पार्टनर में हुई थी अनबन
घटना के बारे में मिली जानकारी के मुताबिक धवल उनाडकट ने अपना मेडिकल टेस्ट कराने से मना कर दिया था. जिस वजह से आसिफ ने उसे ब्लॉक कर दिया था. आसिफ से नाराज धवल जब रविवार (4 नवंबर) को उससे मिलने पहुंचा तो उसने आसिफ को पार्थ रावल के साथ रूम में देखा. जहां पार्थ बेड पर लेटा हुआ था. अपने पार्टनर आसिफ को पार्थ के साथ देख कर वह काफी गुस्सा हो गया. जिसके बाद आसिफ और धवल में काफी झगड़ा हुआ. झगड़ा सुलझाने गए पार्थ पर धवल ने मोमबत्ती स्टैंड से हमला कर दिया. जिस वजह से वह घायल हो गया और उसके सिर से खून बहने लगा.

सिर में आई थी गंभीर चोट, टांके लगवाने से कर दिया था मना
पार्थ को इस हालात में देख धवल और आसिफ डर गए थे. जिसके बाद वे दोनों पार्थ को बांद्रा के होली फैमिली अस्पताल में इलाज के लिए ले गए. वहां उसके सिर में फ्रैक्चर होने की बात पता चली. लेकिन उसने वहां टांके लगवाने से मना कर दिया. जिसके बाद जख्म पर मेडिसिन जेल लगाई गई. अस्पताल से वापस आने के बाद उसी दिन शाम को पार्थ बेहोशी की हालात में दिखा. जिसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया लेकिन डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया.