VIDEO: आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में 'तितली' ने मचाई तबाही

चक्रवाती तूफान 'तितली' ने गुरुवार को आंध्र प्रदेश में भयानक तबाही मचाई है.

VIDEO: आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में 'तितली' ने मचाई तबाही
फोटो IANS

नई दिल्ली: चक्रवाती तूफान 'तितली' ने गुरुवार को आंध्र प्रदेश में भयानक तबाही मचाई है. तूफान के कारण श्रीकाकुलम जिले में भारी बारिश हुई, इससे काफी जानमाल की हानि हुई है. तेज आंधी के साथ आए तूफान के कारण सैकड़ों पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए. वीडियो में साफ नजर आ रहा है कि पानी की टंकियां सड़क पर पेड़ के पत्तों की तरह उड़ रही हैं. जिले के कई मंडलों में दो सेंटीमीटर से लेकर 26 सेमी. तक बारिश दर्ज की गई. सड़क संपर्क भी बड़े पैमाने पर अवरुद्ध हो गया है. 

 

 

बताया जा रहा है कि चक्रवाती तूफान 'तितली' ने आंध्र प्रदेश में दो लोगों की जान ले ली और साथ ही श्रीकाकुलम जिले में बड़े स्तर पर तबाही मचाई है. बता दें कि इस तूफान के कारण आंध्र प्रदेश में भारी नुकसान हुआ है. 

 

 

आंध्र में यातायात हुआ प्रभावित
राज्य सड़क परिवहन निगम ने कई स्थानों पर पेड़ उखड़ने से रास्ते अवरुद्ध होने के कारण अपनी बस सेवाएं निलंबित कर दी है. श्रीकाकुलम से ताल्लुक रखने वाले परिवहन मंत्री के अत्चननायडू ने प्रभावित मंडलों का दौरा किया और वह स्थिति की निगरानी कर रहे हैं. मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने जिले के अधिकारियों के साथ टेली-कांफ्रेंस की और उन्हें हाई अलर्ट पर रहने के लिए कहा है.

बचावकार्य में जुटी NDRF और SDRF की टीमें
नायडू ने कहा, ‘‘अब से हर घंटा बहुत महत्वपूर्ण है. ध्यान राहत कदमों और संचार नेटवर्क बहाल करने पर होना चाहिए. संक्रामक बीमारियों के फैलने से रोकने के लिए देखभाल की जानी चाहिए.’’ एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के दलों को राहत एवं बचाव अभियानों के लिए श्रीकाकुलम और पड़ोसी विजयनगरम जिलों में तैनात किया गया है.

SDMA ने जारी किया टोल फ्री नंबर
एसडीएमए ने मुसीबत में फंसे लोगों की मदद करने के लिए टोल फ्री नंबर 18004250101 बनाया है जबकि तीन उत्तरी तटीय जिलों में नियंत्रण कक्ष चालू कर दिए गए हैं.
 
ओडिशा के 8 जिले हुए प्रभावित
मौसम विभाग के अनुसार, तूफना तितली दक्षिणी ओडिशा -उत्तरी आंध्र प्रदेश के तटों को पार कर गया है जिससे ओडिशा के आठ जिलों गंजम, गजपति, खुर्दा, पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रापड़ा, भद्रक और बालासोर में भारी बारिश हुई और कई पेड़ उखड़ गए. तीन लाख लोगों को यहां से सुरक्षित स्थानों की ओर जाना पड़ रहा है. विशेष राहत आयुक्त बिष्णुपदा सेठी ने कहा कि अब तक गजपति जिला सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है. जिला मुख्यालय से मोहन और काशीनगर जैसे विभिन्न हिस्सों तक सड़क संचार बाधित हो गया है.

कई इलाकों में जारी है तेज बारिश
ओडिशा के बालासोर में 117 मिलीमीटर तक भारी बारिश हुई और पारादीप में 111 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई. मौसम संबंधी भविष्यवाणी करने वाली कंपनी स्काईमेट ने कहा कि गोपालपुर, जहां चक्रवाती तूफान पहुंचा है, वहां अब तक 97 मिलीमीटर बारिश हुई है और इस क्षेत्र में भारी बारिश होने की आशंका है.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close