पाकिस्तान में लापता दोनों खादिम भारत लौटे, सुषमा से मिलकर कहा-शुक्रिया

पाकिस्तान में लापता दो भारतीय खादिम सैयद आसिफ निजामी और नाजिम अली निजामी सोमवार को स्वदेश लौट आए. दिल्ली पहुंचने पर दोनों खादिमों ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की. दोनों खादिमों ने अपने लापता होने की खबर पर भारत सरकार की ओर से तत्परता दिखाए जाने के लिए सुषमा को शुक्रिया कहा.

ज़ी मीडिया ब्‍यूरो | Updated: Mar 20, 2017, 05:32 PM IST
पाकिस्तान में लापता दोनों खादिम भारत लौटे, सुषमा से मिलकर कहा-शुक्रिया
नाजिम निजामी ने कहा कि वह दोबारा पाकिस्तान जाएंगे. फोटो-एएनआई

नई दिल्ली : पाकिस्तान में लापता दो भारतीय खादिम सैयद आसिफ निजामी और नाजिम अली निजामी सोमवार को स्वदेश लौट आए. दिल्ली पहुंचने पर दोनों खादिमों ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की. दोनों खादिमों ने अपने लापता होने की खबर पर भारत सरकार की ओर से तत्परता दिखाए जाने के लिए सुषमा को शुक्रिया कहा.

विदेश मंत्री से मुलाकात के बाद नाजिम निजामी ने मीडियाकर्मियों से कहा, 'मैं पाकिस्तान फिर जाऊंगा, फिर पैगाम-ए-मोहब्बत लेकर जाऊंगा और डंके की चोट पर जाऊंगा.' आसिफ निजामी ने कहा, 'मैं जियारत के लिए बाबा फरीद गंज के दरबार गया. मैं दाता दरबार भी गया. हमें वीआईपी कमरों में रखा गया.'

पाकिस्तान में पिछले सप्ताह हो गए थे लापता

गौरतलब है कि पाकिस्तान के कराची हवाईअड्डे से पिछले सप्ताह एकाएक लापता होने वाले हजरत निजामुद्दीन दरगाह के सज्जादानशीं और उनके भतीजे सोमवार को सुरक्षित स्वदेश लौट आए. सैयद आसिफ निजामी और उनके भतीजे नाजिम अली निजामी के यहां पहुंचने पर हवाईअड्डे पर उनके परिजन और शुभचिंतकों ने उनका स्वागत किया.

और पढ़ें : पाकिस्तान में लापता निजामुद्दीन दरगाह के दोनों उलेमाओं का अब तक पता नहीं

हजरत निजामुद्दीन औलिया दरगाह के सज्जादानशीं आसिफ निजामी के पुत्र आमिर निजामी ने अपने पिता और भाई की सुरक्षित वापसी सुनिश्चित करने के लिए भारत सरकार के प्रयासों के लिए उसका धन्यवाद दिया.

भारत ने पाकिस्तान के समक्ष उठाया था मसला

आमिर ने कहा,‘दोनों ठीक हैं. हम उनकी सुरक्षित वापसी सुनिश्चित करने में भारत सरकार के सहयोग के लिए उसके शुक्रगुजार हैं.’ इस दौरान दोनों उलेमाओं ने वहां इंतजार कर रहे मीडिया से कोई बात नहीं की.

80 वर्षीय बुजुर्ग सज्जादानशीं के पोते इब्राहिम निजामी ने कहा कि दोनों की सुरक्षित वापसी के लिए ‘ऊपर वाले का शुक्रिया अदा’ करने के लिए निजामुद्दीन दरगाह में आज विशेष प्रार्थना की जाएगी.आसिफ निजामी और नाजिम अली निजामी आठ मार्च को लाहौर गए थे और वहां एकाएक लापता हो गए थे, जिसके बाद भारत ने इस मामले को पाकिस्तान के समक्ष उठाया था। आसिफ की यात्रा का मुख्य मकसद कराची में अपनी बहन से मिलना था.