मेरठ में 3 साल की मासूम के मुंह में फोड़ा बम, बच्ची की हालत गंभीर

आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. पुलिस मामला दर्ज कर उसकी तलाश कर रही है.

मेरठ में 3 साल की मासूम के मुंह में फोड़ा बम, बच्ची की हालत गंभीर
बच्ची को करीब दर्जन भर से ज्यादा टांके आए हैं.

मेरठ: दिवाली के दिन हम जश्न मनाते हैं. दिल्ली में तो पटाखा बैन था, लेकिन देश के अन्य राज्यों में खूब पटाखे फोड़े गए. लेकिन, पटाखा फोड़ने के नाम पर मेरठ में एक हैवानियत वाली हरकत की गई. यहां एक अधेड़ ने 3 साल की मासूम के मुंह में सुतली बम फोड़ दिया जिसकी वजह मुंह के चिथड़े उड़ गए. यह मामला सरधना क्षेत्र के मिलक गांव का है. घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया. बच्ची को लहूलुहान हालत में देख ग्रामीण उधर को दौड़े. आरोपी की तलाश की, लेकिन आरोपी हत्थे नहीं चढ़ सका. 

सरधना क्षेत्र के मिलक गांव का रहने वाला शशिपाल ने बताया कि उसकी तीन साल की बेटी घर में खेल रही थी. घर के बाहर बच्चे पटाखे जला रहे थे. बच्ची भी घर के बाहर खेलने चली गई. इसी दौरान गांव का एक अधेड़ वहां पहुंचा और उसने मासूम के मुंह में बुलेट बम रखकर आग लगी दी. बम फूटने से बच्ची के मुंह के चिथड़े उड़ गए. 
बच्ची गंभीर रूप से घायल हो गई.

पत्नी ने शराब के लिए पैसे नहीं दिए तो पति ने कर लिया सुसाइड

लोगों के आने पर आरोपी मौके से फरार हो गया. हालांकि, ग्रामीणों ने उसका पीछा करने की कोशिश की, लेकिन आरोपी उनके हाथ नहीं आया. मासूम बच्ची आरुषि के पिता शशिपाल मौके पर पहुंचे और बच्ची को ईश्वर नर्सिंग होम में भर्ती कराया. बच्ची को करीब दर्जन भर से ज्यादा टांके आए हैं. 

दिवाली के अगले दिन दमघोंटू प्रदूषण के सामने धूप भी फेल, विजिबिलिटी 3 मीटर से भी कम

बताया जा रहा है कि संक्रमण बच्ची के गले तक पहुंच गया है, इस वजह से बच्ची की हालत गंभीर बनी हुई है. वहीं, शशिपाल ने आरोपी के खिलाफ नामजद तहरीर देते हुए कार्रवाई की मांग की है. पुलिस मामले की जांच में जुटी है लेकिन अभी तक आरोपी फरार है.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close