केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए सीएम योगी ने बढ़ाए हाथ, 15 करोड़ के बाद देगी इतनी राशि

उत्तर प्रदेश में जमा करने के लिए राज्य के प्रमुख राजस्व सचिव सुरेश चंद्रा और सचिव एवं राहत आयुक्त संजय कुमार ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को 5 करोड़ 13 लाख 87 हजार रुपये का चैक सौंपा.

केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए सीएम योगी ने बढ़ाए हाथ, 15 करोड़ के बाद देगी इतनी राशि
केरल की विपदा पर उत्तर प्रदेश ने बढ़ाया सहयोग का हांथ (प्रतीकात्मक फोटो )

लखनऊ: केरल में बाढ़ से प्रभावित व्यक्तियों/परिवारों के सहायतार्थ मुख्यमंत्री राहत कोष, उत्तर प्रदेश में जमा करने के लिए राज्य के प्रमुख राजस्व सचिव सुरेश चंद्रा और सचिव एवं राहत आयुक्त संजय कुमार ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को 5 करोड़ 13 लाख 87 हजार रुपये का चैक सौंपा. यह धनराशि प्रदेश के विभिन्न जनपदों से एकत्रित की गई है. सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री को यह सहायता राशि मंगलवार शाम शास्त्री भवन में दी गई. योगी ने इस पुनीत कार्य में सहयोग के लिए सभी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि राज्य सरकार केरल के बाढ़ प्रभावितों की सहायता के लिए हर सम्भव सहायता उपलब्ध करा रही है. 

कहां से मिला कितना पैसा
इस एकत्रित धनराशि में मुख्य रूप से जनपद रायबरेली द्वारा 141.31 लाख रुपए, एटा द्वारा 124.45 लाख रुपए, बिजनौर द्वारा 62 लाख रुपए, गाजियाबाद द्वारा 34.11 लाख रुपए, मुजफ्फनगर द्वारा 22.55 लाख रुपए, कानपुर नगर द्वारा 15 लाख रुपए, कानपुर देहात द्वारा 11 लाख रुपए, मुरादाबाद द्वारा 11 लाख रुपए, रामपुर द्वारा 10.63 लाख रुपए तथा आजमगढ़, पीलीभीत, उन्नाव एवं अमरोहा द्वारा 10-10 लाख रुपए का योगदान दिया गया है.

बाढ़ के कारण केरल को हुआ नुकसान
उल्लेखनीय है कि केरल में बाढ़ के कारण लाखों लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया था. राज्‍य को बाढ़ से करीब 20 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है. मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा था कि बाढ़ आपदा में 483 लोगों ने अपनी जान गंवाई और बाढ़ से हुए नुकसान का अनुमान हमारे राज्य के वार्षिक परिव्यय से कहीं अधिक है. आपदा पर चर्चा के लिए बुलाए एक दिवसीय विशेष सत्र में बहस की शुरुआत करते हुए विजयन ने कहा कि 14 लोग अभी भी लापता हैं हालांकि बाढ़ का पानी राज्य के लगभग सभी हिस्सों में कम हो गया है.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close